अगले राष्ट्रपति के लिए दो दावेदार

काठमांडू, ३० दिसम्बर । देश में नयां सरकार निर्माण होने जा रहा है । बहुतों का अनुमान है कि अगली सरकार बाम गठबंधन के नेतृत्व में ही बनेगी । नयां सरकार के साथ–साथ नयां राष्ट्रपति के बारे में भी चर्चा हो रही है । नयां राष्ट्रपति में अभी दो नेताओं ने दावी किया है । एक है– एमाले नेता तथा पूर्वप्रधानमन्त्री झलनाथ खनाल और दूसर हैं– माओवादी नेता रामबहादुर थापा ‘बादल’ ।


वैसे तो वर्तमान राष्ट्रपति विद्यादेवी भण्डारी ने भी फिर राष्ट्रपति बनने के लिए दावा किया है । एमाले के कुछ नेताओं को मानना है कि अगली राष्ट्रपति भी भण्डारी ही बनने जा रही है । एमाले निकट समाचार स्रोत को कहना है कि अभी पूर्वप्रधानमन्त्री झलनाथ खनाल भी पार्टी के अन्दर अपने को भावी राष्ट्रपति के रुप में दावा कर रहे हैं । ऐसी अवस्था में एमाले (विशेषतः केपीशर्मा ओली) को तय करना मुश्कील है कि अगले राष्ट्रपति पुनः भण्डारी को बनाया जाए या खनाल को ? लेकिन एमाले के अन्दर खनाल और भण्डारी के पक्ष और विपक्ष में अभी बहस हो रहा है ।
इधर माओवादी केन्द्र की अपनी ही दावी है । माओवादी को कहना है कि अगर एमाले ५ साल के लिए प्रधानमन्त्री सहित सरकार की नेतृत्व करेगी तो राष्ट्रपति माओवादी को मिलना चाहिए । माओवादी केन्द्र द्वारा प्रस्तुत दावी में भी कुछ दम है । माओवादी केन्द्र निकट स्रोत का कहना है कि माओवादी से राष्ट्रपति बनाने का अवसर प्राप्त होगा तो रामबहादुर थापा राष्ट्रपति के रुप में आगे आएंगे । माओवादी केन्द्र के कुछ नेताओं ने तो थापा को भावी राष्ट्रपति के रुप में प्रस्तुत कर बहस भी शुरु किया है । बहस में तो अन्य नेताओं का नाम भी चर्चा में हैं । लेकिन विशेषतः ज्यादा चर्चा खनाल और थापा की है । संसद में बाम गठबंधन का बर्चस्व होने के कारण भावी राष्ट्रपति जो बने, वह बाम गठबंधन से ही कोई हो बन सकता है, यह निश्चित है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: