अब राजावादी भी मधेश सम्मेलन करेंगे

जनकपुर जानकी मन्दिर महंथ

जनकपुर जानकी मन्दिर महंथ

कैलास दास, जनकपुर,१४ जुलाइ । राजा के समर्थको ने २०४७ साल का संविधान पुर्नस्थापना की मांग करते हुए जनकपुर मे मधेश सम्मेलन करने का निर्णय किया है ।

श्रावन के प्रथम सप्ताह अर्थात ३, ४ और ५ गते को होने वाला सम्मेलन मे मधेश के २३ जिलों से राजावादीयों का सहभागी होने का अनुमान किया गया है । ‘२०४७ साल का संविधान पुर्नस्थापना हमर अभियान २०७०’ कार्यक्रम अन्तर्गत जनकपुर मे मधेश सम्मेलन करने का निर्णय किया गया है । संयोजक किशोरी महतो ने यह जानकारी दी है ।

सनातन हिन्दु धर्म तथा संघिय स्वरुप सहित प्रजातन्त्र की रक्षा के लिए २०४७ साल के संविधान आवश्यक होने की बात कहते हुए उन्होने सम्मेलन का आयोजना किया जाऐगा बताया है ।

जनकपुर मे रविवार आयोजित पत्रकार सम्मेलन मे अभियान के संयोजक महतो ने अभियान अन्तर्गत तीन चरण मे कार्यक्रम निर्धारण किया गया जानकारी दी है । प्रथम चरण मे तराई मधेश के २५ जिला, दुसरा  चरण मे पहाड़ी जिला और तीसरा चरण मे हिमाली क्षेत्र के जिलों मे कार्य समिति गठन कर  कार्यालय संचालन करने का भी निर्णय किया गया संयोजक महतो जानकारी दी है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: