अाज है अहाेइ अष्टमी व्रत

१२ अक्टुबर

ह‍िंदू धर्म में माताओं द्वारा पुत्रों के ल‍िए अहोई अष्‍टमी का व्रत क‍िया जाता है। यह व्रत अश्‍वि‍न माह की कृष्‍ण पक्ष की अष्‍टमी के द‍िन होता है। हर साल की तरह इस बार भी इस व्रत और पूजन की तैयार‍ियां तेजी से हो रही है। यह व्रत इस बार 12 अक्‍टूबर द‍िन बृह‍स्‍पत‍िवार को क‍िया जाएगा। उत्तर भारत में ज्यादा में इस व्रत का प्रचलन ज्‍यादा है। इस द‍िन अहोई माता की पूजा की जाएगी। अहोई अष्‍टमी को अहोई आठें के नाम से भी जानते हैं। इस द‍िन मह‍िलाएं पुत्रों की भलाई व उनकी लंबी आयु की कामना के ल‍िए व्रत रखती हैं। पूरा द‍िन व्रत रखने के साथ ही व‍िभ‍िन्‍न प्रकार के व्‍यंजन बनाती हैं। इसके बाद शाम के समय व‍िध‍िव‍िधान से पूजा की जाती है फ‍िर चांद और तारों के दर्शन करके प्रसाद ग्रहण क‍ि‍या जाता है। इस तरह यह अहोई अष्‍टमी का व्रत पूरा हो जाता है।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: