अात्मघाती हमले में ७२ की माैत

२१ अक्टुवर

 

अफगानिस्तान में शिया समुदाय पर हमला थमने का नाम नहीं ले रहा है। आत्मघाती हमलावर ने शुक्रवार को देश की राजधानी काबुल स्थित मस्जिद में खुद को उड़ा लिया। इसमें 39 लोगों की जान चली गई। दूसरा हमला मध्य प्रांत गहोर में किया गया, जहां 33 लोग मारे गए। दोनों हमले ऐसे समय हुए हैं, जब अंतरराष्ट्रीय शक्तियां तालिबान को वार्ता की मेज पर लाने के लिए ओमान में जुट रही हैं।
जानकारी के मुताबिक, हमलावर ने सबसे पहले काबुल के पश्चिमी जिले दश्त-ए-बार्ची स्थित इमाम जमान मस्जिद को निशाना बनाया। उस वक्त जुमे की नमाज के लिए बड़ी तादाद में लोग वहां जमा थे। हमलावर शिया समुदाय के मस्जिद में घुसकर खुद को उड़ा लिया। प्रत्यक्षदर्शियों ने कई बच्चों के भी मारे जाने की बात कही है। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने हमले की पुष्टि की है। अभी तक किसी आतंकी गुट ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन हाल के महीनों में इस्लामिक स्टेट ने शिया समुदाय पर हुए कई हमलों की जिम्मेदारी ली है। दूसरा हमला मध्य प्रांत गहोर के मस्जिद में किया गया। आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया, जिसमें 33 लोगों की मौत हो गई। बल्ख के गवर्नर अता मुहम्मद नूर ने बताया कि हमलावर के निशाने पर जमीयत का एक शीर्ष नेता था। शुरुआत में उनके मारे जाने की खबर आई थी, लेकिन बाद में इसकी पुष्टि नहीं हो सकी।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: