आज का राशिफल -31 जुलाई 2016

मेष(चु, चे, चो, ला, लि, लु, ले, लो, अ (Aries))
सोचे हुए सभी कार्यों में शुभ परिणाम अपेक्षित हैं। कार्य की सफलता से आपके यश व संबंधों में बढ़ोतरी होगी। यश, प्रशंसा एवं पुरुषार्थ बढ़ेगा।

वृष(इ, उ, ए, ओ, बा, बि, बु, बे, बो (Taurus))
रचनात्मक कार्य से आपकी प्रगति होगी। व्यापार के लिए दिन अनुकूल रहने की संभावना है। संपत्ति प्राप्त होने के भी योग हैं।

 मिथुन( का, कि, कु, घ, ङ, छ, के, को, ह (Gemini))
स्व-निर्णय से कार्य करें। निकटतम व्यक्तियों के व्यवहार पर ध्यान न दें। व्यापार में लाभकारी निर्णय ले पाएंगे। राज्य पक्ष से लाभ होगा।

कर्क(हि, हु, हे, हो, डा, डि, डु, डे, डो (Cancer))
स्थायी संपत्ति के कार्य में सफलता मिलेगी। धैर्य के कारण आपकी बड़ी से बड़ी आकांक्षा भी पूर्ण हो जाएगी। समय का दुरुपयोग नहीं करें।

सिंह(मा, मि, मु, मे, मो, टा, टि, टु, टे (Leo))
लोगों से संपर्क बढ़ाकर अपनी योजनाएं पूर्ण कर सकते हैं। परिवार के वृद्ध व्यक्तियों के स्वास्थ्य पर ध्यान दें। सामाजिक सम्मान एवं यश मिलेगा।

 कन्या(टो, प, पि, पु, ष, ण, ठ, पे, पो (Virgo))

उपयोगी वार्तालाप होगा। किसी समस्या का समाधान आपके प्रयासों से संभव है। व्यापार अच्छा चलेगा। व्यापार में नई योजना क्रियान्वित होगी।

तुला(र, रि, रु, रे, रो, ता, ति, तु, ते (Libra))
लोकप्रियता में वृद्धि होगी। धन के निवेश की योजना आपके लिए लाभदायक रहेगी। भोग-विलास में रुचि बढ़ेगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

वृश्चिक(तो, ना, नि, नु, ने, नो, या, यि, यु (Scorpio))
अपरिचित व्यक्तियों का सहयोग आपमें विश्वास का संचार करेगा। लाभ के अवसर मिलेंगे और कार्यक्षमता बढ़ने से उत्साह बढ़ेगा।
धनु(ये, यो, भ, भि, भु, ध, फा, ढ, भे (Sagittarius))

व्यापार अच्छा चलेगा। प्रतिष्ठित व्यक्ति से भेंट होगी। आर्थिक कार्यों में सफलता मिलने से हर्ष होगा। अनावश्यक काम में समय बर्बाद न करें।

मकर(भो, ज, जि, खि, खु, खे, खो, गा, गि (Capricorn))
आपकी बुद्धि और सूझ-बूझ की समाज और परिवार में सराहना होगी। अवसर हितकर होंगे। राजकीय कार्य में सफलता की संभावना है।

कुंभ(गु, गे, गो, सा, सि, सु, से, सो, द (Aquarius))
धन की प्राप्ति के साथ प्रसिद्धिकारक योग भी बनेंगे। संतान के व्यवहार से कष्ट होगा। मकान की समस्या का हल निकलेगा। रुका पैसा मिलेगा।

 मीन(दि, दु, थ, झ, ञ, दे, दो, च, चि (Pisces))
स्वयं के सामर्थ्य से ही भाग्योन्नति होगी। जीवनसाथी से संबंध प्रगाढ़ होंगे। आवश्यक खरीदी होगी। कार्यक्षेत्र का विकास एवं विस्तार संभव है।

स्रोत :webduniya

Loading...
%d bloggers like this: