आज धनतेरस, धन खरीद धनवन्तरी की पूजा

विजेता चौधरी, कार्तिक १२ ।
आज देश भर धनतेरस मनाया जा रहा है । आज स्वर्ण, द्रव्य सहित वर्तन लगायत की विभिन्न वस्तु खरीदकर धनतेरस मनाया जा रहा है ।

dhanters
कृष्ण त्रयोदशी के दिन धनवन्तरी प्रकट हुईं थीं इसी विश्वास के साथ धनतेरस मनाया जाता है । जनमान्यता अनुरुप धनवन्तरी भी समुन्द्र मंथन से प्रकट हुईं थीं । उनके हाथ में अमृत कलश होने के मान्यता के आधार पर आज के दिन स्वर्ण, जान्दी वा तामा का कलश, वर्तन के साथ द्रव्य भी खरीदने का प्रचलन है ।
कोटेश्वर ३५ के रामकृष्ण कार्की ने फर्निचर खदिकर धनतेरस मनाया । वे कहते हैं घर में फर्निचर की आवश्यकता थीं इसी लिए धनतेरस को मध्यनजर करते हुए आज ही खरिदा है ।
नयाँ बानेश्वर में खरिदारी कर रहें भाग्यवती साह बताती हैं धनतेरस हमारे मधेस में भी अनिवार्य मनाया जाता है । आज वस्तु, सोनाचान्दी के साथ पूजा का वर्तन भगवान की तामा की मूर्ति, जमिनजायदात लगायत के सामाग्री खरीद कर मनाया जाता है ।
आज के दिन धन तथा आरोग्य की देवी धनवन्तरी जयन्ती मनाने के साथ लक्ष्मी तथा कुबेर का भी पूजा किया जाता है । आज के दिन धनसम्पत्ति प्राप्त करने के लिए साम को कुबेर के आगे १३ दिया जलाकर पूजा किया जाता है । जिस से खरिदा धन तेरह गुणा बढजाने का मान्यता है । आज के दिन जमिन, घर, कर, बाहन लगायत की सम्पत्ति खरिदना लाभकर मानाजाता है ।
पं दिनेश मिश्र बताते हैंं वैसे भी धन जोडपाना स्वयम में वैभव की बात है । यद्यपि आज के दिन किसी के लिए उपहार खरिदना उतना लाभप्रद नही माना जाता है । आज के दिन घर को तथा स्वयम को आवश्यक वस्तु खरिदना चाहिये । उनके मुताविक आज के दिन रुद्राक्ष की माला तथा चाँदी खरिदना अत्यन्त सुभ होता है क्यो के चान्दी चन्द्रमा का प्रतीक माना गया है इस से शितलता मिलती है ।
पं मिश्र कहते हैं काला वस्तु तथा तेलजन्य वस्तु आज के दिन विल्कुल ना खरिदे यें अशुभ है । इसी के साथ शंख खरिदना आज के दिन अत्यन्त शुभ मानागया है ।
आज काठमांडू के सभी मुख्य लगायत के बाजार में भिडभाड है । पूजा सामाग्री के साथ अन्य वस्तुओं से बाजार रंगीन है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: