आज २९५ वाँ पृथ्वी जयन्ती, सार्वजनिक विदा नहीं दी गयी

काठमान्डू ,२७ पुस, । आर एन यादव  आज २९५ वाँ पृथ्वी जयन्ती विभिन्न  कार्यक्रम के साथ् मनाया जा रहा है । पृथ्वी जयन्ती  को  राष्ट्रिय एकता दिवस के रुपमे  सरकारी स्तर मनाने का चलन था | अज का दिन सार्वजनिक विदा की मांग की जारही थी । लेकिन  सरकार ने विदा की घोषणा नही की |
prithvinarayn shahवि .स . १७७९ साल पुस २७ गते गोरखा मे जन्मे पृथ्वीनारायण शाह २० वर्ष के उमेर मे ही राजा बने थे और ५३ वर्ष के  उमेर मे  उनका  निधन हुआ था  । लगभग  तीन दशक लम्बे समय तक निरन्तर युद्धरत शाह  राजा बनते ही  नेपाल एकीकरण अभियान को आरम्भ किया था । उन्होनें वि. स.  १८०१ आश्विन  १५ गते नुवाकोट पर  विजय हासिल करके नेपाल एकीकरण अभियान को शुरु  किया था । उसके बाद  कीर्तिपुर, कान्तिपुर, पाटन, भक्तपुर, मकवानपुर  होते  उन्होनें एकीकरण अभियान को आगे  बढ़ाया था । शाह ने पश्चिमी क्षेत्र मे भी एकीकरण प्रयास किया था , लेकिन  व़े  सफल नहीं हो सकें । कीर्तिपुर में उन्होंने लोगों का नाक कटकर बोरा में जमा किया था | बाद में उन्होंने कीर्तिपुर पर जीत हांसिल की थी |
नेपाल मे गणतन्त्र  आने से पूर्व पुस २७ गते को  सरकार द्वारा  पृथ्वी जयन्ती तथा राष्ट्रिय एकता दिवस के रुपमे  मनाने का चलन था  ।  इस दिन मे सरकार सार्वजनिक विदा देने की  घोषणा की थी । गणतन्त्र स्थापना से ही  देश में राजतन्त्र को अन्त्य  और  परिवर्तन को संस्थागत करते ही सार्वजनिक  विदाओं को भी  हटा दिया गया । सरकार ने कोइ औपचारिक कार्यक्रम न करने पर भी विभिन्न समूह द्वारा  आज विभिन्न कार्यक्रम कर  पृथ्वी जयन्ती मनाया जा रहा है ।

बुधबार शुवह ही  सिंहदरवार मे रहे पृथ्वीनारायण शाह को सालिक मे फूल , माला,अबिर  लगाकर मध्यान्ह  राप्रपा ने चाय पान करने के कार्यक्रम रखा है  । इसी तरह  पृथ्वीनारायण शाह ने  नेपाल को एकीकरण मे  दिया  योगदान और  सम्मान के  विषय में  नागरिक समूह द्वारा नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान मे एक अन्तरक्रिया कार्यक्रम कर पृथ्वी जयन्ती मनायेंगे ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz