आतंकवादियों द्वारा कोशी बैरेज को ध्वस्त करने की धमकी, सुरक्षा बढाई गई ।

श्रावण १० गते
बाढ़ के खतरे से त्रस्त तराई में कोशी बैरेज पर मंडराते खतरे ने अधिकारियों के नींद उड़ा दिए हैं । भारतीय संचार माध्यम के अनुसार नेपाल भारत के सीमा में रहे कोशी बैरेज को ध्वस्त करने की आतंककारियों की साजिश का खुलासा सामने आ रहा है । हालांकि सुरक्षा की दृष्टिकोण से इससे सम्बद्ध संगठनों का नाम सामने नहीं आ रहा है । किन्तु बैरेज पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है । नियमित प्रहरियों के अलावा अभी सेना को भी वहाँ परिचालित किया गया है और सभी सवारी साधन की सुरक्षा जाँच हो रही है । बाढ़ का पानी बैरेज को छू रहा है जिससे जनजीवन आतंकित बना हुआ है । ५० वर्ष पुराने कोशी बैरेज की उम्र सीमा ३० वर्ष की ही थी किन्तु इस ओर भी संबन्धित निकाय की उदासीनता ही दिख रही है । ऐसे में इस सूचना ने सरकारी हलकों में सनसनी फैला दी है । नेपाल के पूर्वी नेपाल को जोडने के लिए यह एक मात्र पुल है जो सप्तरी और सुनसरी के बीच अवस्थित है । यह सजसनीखेज खबर भारत के चर्चित टेलीविजन आजतक के आनलाइन में प्रकाशित हुइृ है । कुछ दिनों पूर्व भी यह बात सामने आइृ थी कि नेपाल की धरती को आतंकवादी  प्रयोग कर रहे हैं और उनका अड्डा बन रहा है नेपाल ।
koshi-bairage
सूचना की प्राप्ति के बाद से ही सुरक्षा में कड़ाई लाई गई है । सेना और प्रशासन दोनों चुस्ती और सतर्कता अपना रहे हैं ताकि कोई भी अनहोनी और अस्वाभिक घटना से बचा जा सके । फिलहाल विश्व में आतंककारियों ने जैसी तबाही मचा रखी है ऐसे में सजगता और सुरक्षा की व्यवस्था में अत्यन्त सावधानी की अपेक्षा नेपाल को भी है । सेना को हर ओर यह ध्यान देना ही होगा ।
loading...