आतंकी चलखेल को ध्यान में रखकर नेपाल में सुरक्षा की व्यवस्था बढ़ी

मालिनी मिश्र, काठमाण्डू, २८ जुलाई ।
 पिछले कुछ महिनों से  विश्व में आतंकवादी प्रवृत्ति के बढने के साथ ही उसका असर कई जगहों पर दिख रहा है ।
airport tribhuban
इसी क्रम में नेपाल के अंतरराष्ट्रीय विमना स्थल में सुरक्षा बढ़ा दी गयी है जिसमें कमाण्डो के प्रशिक्षण में प्रशिक्षित प्रहरियों के विशेष कार्यदल एसटिएफ हैं । विमानस्थल के प्रमुख डिआइजी गोविन्द निरौला ने बताया है कि विमानस्थल की सुरक्षा को देखते हुए विशेष कार्यदल के ३५ लोगों के  प्लाटून को भी रखा गया है । एसएलआर हथियार रखने वाले प्रहरी दो प्रकार की जिम्मेदारी का वहन कर रहे हैं । जिसमें एक टोली, गोल्डन गेट से विमानस्थल के अन्दर तक नियमित पेट्रोलिंग कर रही है । दूसरी टोली प्रस्थान व आगमन कक्ष के चारों तरफ ही स्टैण्डबाई ड्यूटी में हैं ।
 टर्की व इस्ताम्बुल में आतंक का खौफनाक खेल खत्म होने साथ ही नेपाल सरकार ने सुरक्षा सतर्कता बढ़ायी है । विश्म में ही आतंक मचा रहे इस्लामिक स्टेट आईएस नेपाल को भी निशाने पर ले सकता है इसमें नेपाल में रहने वाले विदेशियों को खतरा न हो यह ध्यान में रख कर ही सुरक्षा बढा दी गयी है । विमनस्थल के साथ ही सीमाओं की भी सुरक्षा बढा दी गयी है ।
 इसके साथ ही राष्ट्रीय अनुसंधान विभाग व सशस्त्र प्रहरी की टोली भी सादे वेश भूषा में ड्यूटी में हैं । अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर काठमाण्डू विमानस्थल की कमजोर स्थिति का गलत प्रचार होने के साथ ही यह फैसला लिया गया है ।
Loading...
%d bloggers like this: