आदीबासी के लिए काला रात : माओबादी नेता पुन

barsaman-punविनय कुमार, अगस्त ९ ।
एकीकृत माओबादी के नेता वर्षमान पुन ने आदीबासी जनजाती के लिए श्रावण २३ की रात को काला रात कहा है । आज रविवार को २१ वीं विशव आदीबासी दिवस के अवसर पर उन्होनें ऐसा कहा है की सम्पूर्ण उत्पिडीत जाती वर्ग के लिए ६ प्रदेशीय खाका मान्य नहीं हैं, इस से हम कभी स्वीकार नहीं करेगें । जिस किसीम से सीमांकन किया गया है यह पुरा सिद्धान्तबीहिन होने का जिकिर नेता पुन ने किया । बिजुलीबाजार के बिच सडकपर सम्बोधन करते हुए उन्होने स्पष्ट कहा की इस खाका नें मगरात को खण्डित किया है, मधेस को खण्डित किया है, इसपर एकीकृत माओबादी का घोर असन्तुष्टि है । सभि आन्दोलनों का मर्म को बडीÞ दल के नेतागण ने बेवास्ता किया है और उत्पीडन जातजाती बदला लेकर रहेगा उन्होने आवेश प्रकट की । नेता पुन आगे बोलते हुए कहा की १० साल पहले एक राजा से संघर्ष करना पड़ता था और आज चार राजाओं से । अगर संविधान में विभिन्न जातजाती का अधिकार सुनिश्चित नहीं किया गया तो सड़क अन्तिम विकल्प होने का चेतावनी दिया है । विभिन्न आदीवासी जनजाती संघ संस्था नें अपनी सहभागीता जताया था ।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: