ईलाका प्रशासन पुर्नस्थापना करने की मांग

2
नेपालगन्ज, (बाके) पवन जायसवाल, बैशाख १३ गते ।
बाके जिला राप्तीपार की नरैनापुर में ईलाका प्रशासन कार्यालय पुर्नस्थापना करने की मांग स्थानीयबासी लोगों ने किया है ।
ईलाका प्रशासन कार्यालय न होन के कारण शान्ति, सुव्यवस्था प्रभावकारी नही हो रही इस लिय स्थानीयवासियों ने वह माग किया है । कुछ समय इधर नरैनापुर ईलाका प्रशासन कार्यालय का काम, कारवाही जिला प्रशासन कार्यालय नेपालगन्ज से ही हो रहा था ।
जिला समन्वय समिति, बाके की आयोजन में और बास की सहजीकरण में बैशाख १२ गते को नरैनापुर में सम्पन्न सार्वजनिक सुनुवाई की सहभागियों ने वह माग किया है । सुनुवाई की सहभागियों ने बिकास लगायत की सेवा, सुबिधा से हम लाग बञ्चित रहें है बताया ।
सुनुवाई के अन्त में ६ बुंदे प्रतिबद्धता व्यक्त किया । जिसमें नरैनापुर क्षेत्र में सञ्चलित बिकास निर्माण का कार्य प्रभावकारी, गुणस्तरीय और पारदर्शी बनाने के लिये निरन्तर अनुगमन करना चाहियें, योजना तर्जुमा की प्रकृया अवलम्बन करना, स्थानीय योजनाए मे जनसहभागिता अभिबृद्धि करके जनश्रमदान करना, नरैनापुर के घरदौरिया में सार्वजनिक प्रयोजन के लिये हैण्ड पम्प उपलब्ध करना, बिभिन्न सेवाप्रदायक निकायों के बारे में आया सिकायतें की सन्दर्भ में सम्बद्ध कार्यालय को पत्राचार करेें, जिला समन्वय समिति बा“के में समन्वय करनें के लिये आनेवाले संस्थाए“ को राप्तीपार केन्द्रीत होने की आग्रह करने लगायत रही थी ।

1
बास मटेहिया उप–शाखा अध्यक्ष के मकबुल अहमद मुकेरी ने सञ्चालन किया कार्यक्रम में बास के कार्यकारी निर्देशक नमस्कार शाह ने स्वागत किया था स्थानीय बिकास अधिकारी हरि प्याकुरेल, सामाजिक बिकास अधिकृत मिन बहादुर मल्ल, नरैनापुर गाव“ पालिका के कार्यकारी अधिकृत मित्रलाल भट्राई लगायत लोगों ने सहभागियों की प्रश्न की जवाफ दिया था । सार्वजनिक सुनुवाई में दो सौ से अधिक लोगों की सहभागिता रही थी । सुनुवाई में लक्ष्मणपुर वडा सचिव अशोक श्रीबास्तब, नरैनापुर वडा सचिव सावितराम वर्मा, गंगापुर के वडा सचिव प्रेम प्रसाद उपाध्याय, कालाफाटा के सचिव खड्क बहादुर बस्नेत, ईलाका प्रहरी कार्यालय नरैनापुर के प्रमुख गोबिन्द बहादुर सिंह लगायत लोगों की उपस्थिति रही थी ।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: