एमाले की अडान के बाद चुनाव पर एकबार फिर प्रश्नचिन्ह

१४ वैशाख, काठमाडौं ।chunab

सरकार द्वारा स्थानीय तह की संख्या वृद्धि औरर सीमांकन हेरफेर के सिफारिस के लिए प्रदेश नंम्बर २ और ५ के ११ जिला में करने वाले परिपत्र की वापसी के निर्णय के बाद प्रमुख प्रतिपक्षी एमाले ने संसद का अवरोध हटाया है । इसी के साथ मधेशी दलों में असंतोष बढ गया है । मधेशी दलों का आरोप है कि सरकार ने भद्र सहमति की अवहेलना की है और अब एक बार फिर से आन्दोलन ही विकल्प बचता है । इसी के साथ चुनाव सम्पन्न की प्रक्रिया पर एक प्रश्नचिन्ह लग गया है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz