ओली की उपस्थति में पूर्व मधेशी उपराष्ट्रपति झा की बेइज्ज्ती, झा द्वारा गणतन्त्र दिवस बहिस्कार

काठमाडौं, २८ मई । पूर्वउपराष्ट्रपति परमानन्द झा  आज गणतन्त्र दिवस में भाग लेने के लिए दौरा सुरवाल , कुरता  और ढाका टोपी लगाकर टुँडीखेल पहुँचे थे | लेकिन वहाँ आयोजीत कार्यक्रम में उनको वैठने की व्यबस्था नही थी | थोड़ी देर पूर्वउपराष्ट्रपति महोदय इधर उधर देखे | फिर बाद मे उन्होंने आज  शनिबार सुबह सैनिक मञ्च टुँडीखेल में आयोजित कार्यक्रम को बहिस्कार करने का निर्णय लिया । वे वहाँ से चल पड़े | उनकी स्थिति देखने लायक थी | उन्हें यह पता चलगया कि राष्ट्रिय पोशाक सुसज्जित होने से नेपाली नागरिक नही कहलाता है | अगर आप मधेशी हैं तो ओली साहब की चमचागिरी जरूरी है |

paramananda-jha-at-tudikhel

शनिबार सुबह  सरकार द्वारा  आयोजित गणतन्त्र दिवस मनाने का कार्यक्रम में पूर्वराष्ट्रपति झा राष्ट्रिय पोशाक सुसज्जित होकर मञ्च पर पहुँचे थे । लेकिन जब उन्हें कोई नही पूछा और वैठने की कोई व्यबस्था नही देखे तब उन्हें पता चल गया कि उनकी अवहेलना की गी है | और वे तुरन्त ही मंच से उतर कर चल दियें |

कार्यक्रम को बहिस्कार करके लौटने के कर्म में उपराष्ट्रपति झा ने अपनी अवहेलना होने का आरोप लगाया | वापस लौटते देखकर कुछ सरकारी अधिकारी ने उन्हें फुसलाकर फिर से मंच पर ले जाने का प्रयास किया | लेकिन उपराष्ट्रपति झा ने उनकी नही सुनी और वे वापस हो गये |
सरकार द्वारा आयोजित गणतन्त्र दिवस के अवसर पर टुँडीखेल में औपचारिक समारोह का आयोजना किया गया था ।  इस अवसर पर राष्ट्रपति विद्या देवी भण्डारी, प्रधानमन्त्री केपी शर्मा अाेली , उपराष्ट्रपति नन्दबहादुर पुन,  सभामुख अोनसरी घर्ती सहित कई विशिष्ट लोगों की उपस्थति थी ।

 

 

Loading...