ओली पहले चीन जाएंगे या मोदी को स्वागत करेंगे ?

काठमांडू, २२ अप्रिल । भारतीय प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी नेपाल भ्रमण में आ रहे हैं । लेकिन नेपाल के प्रधानमन्त्री केपीशर्मा ओली में एक विरोधाभाष दिखाई दिया है । वह यह है कि प्रधानमन्त्री ओली पहले चीन का भ्रमण कर लौट आए या भारतीय प्रधानमन्त्री मोदी को काठमांडू में स्वागत करें ? आज प्रकाशित कान्तिपुर दैनिक में प्रकाशित समाचार अनुसार इसके बारे में प्रधानमन्त्री कुटनीतिक वृत्त में विचार–विमर्श में लगे हैं ।
तीन दिवसीय भारत भ्रमण खत्म होने के तुरन्त बाद परराष्ट्रमन्त्री प्रदीप ज्ञावली बेइजिङ गए थे । वहां उन्होंने प्रधानमन्त्री ओली का भ्रमण के संबंध में बातचीत भी किया है । मन्त्री ज्ञावली के जरिए पड़ोसी राष्ट्र चीन ने सन्देश दिया है कि वह प्रधानमन्त्री ओली को स्वागत करने के लिए प्रतिक्षारत है । लेकिन वहां से ओली कब नेपाल अवास होंगे, तिथि तय नहीं है, इसीलिए प्रधानमन्त्री विरोधाभाष में पड़ गए हैं कि वह पहले क्या करें ? कुछ कुटनीतिज्ञों ने सलाह दिया है कि वह पहले मोदी को स्वागत करें और उसके बाद ही चीन भ्रमण के लिए जाएं ।
भारतीय प्रधानमन्त्री मोदी काठमांडू आने से पहले ही ओली चीन जा कर वापस हो सकते हैं, इस दृष्टिकोण से आन्तरिक विचार–विमर्श हो रहा है, लेकिन निर्णय होना बांकी है । कहा गया है कि भारतीय पक्ष ने भी इस चाहना को कुटनीतिक माध्यम से व्यक्त किया है । परराष्ट्र मन्त्रालय में इसके संबंध में निरन्तर विचार–विमर्श हो रहा है, लेकिन पहले क्या किया जाए, इसके बारे में कोई भी निर्णय नहीं हो पा रहा है । स्मरणीय है, आगामी मई 25 तारीख भारतीय प्रधानमन्त्री नेपाल आने की समाचार सार्वजनिक हो चुका है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: