कथाकार सनत रेग्मी पूर्णिमा साहित्य रत्न से सम्मानित

नेपालगन्ज,बाके, पवन जायसवाल २०७२ अगहन २१ गते ।
नेपालगन्ज के वरिष्ठ कथाकार तथा नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान के पूर्व सदस्य सचिव सनत रेग्मी को अगहन १९ गते शनिवार पूर्णिमा साहित्य रत्न २०७१ से कोहलपुर में सम्मान किया गया ।
2नेपाली आख्यान में योगदान पहुचाने के नाते हाम्रो पूर्णिमा साहित्य प्रतिष्ठान कोहलपुर ने कथाकार सनत रेग्मी को सम्मान किया गया है । नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान के सदस्य सचिव प्रा.डा.जीवेन्द्र देव गिरी ने कथाकार सनत रेग्मी को नगद ११ हजार रुपैया सहित प्रमाण– पत्र और दोसल्ला ओढाकर सम्मान किया था । कथाकार सनत रेग्मी का आधा दर्जन से अधिक कथा संग्रह प्रकाशित हो चुकी है । उन की कथाए“ स्नातक तह की पाठ्य पुस्तकों में पढाई भी हो रही है । हरेक वर्ष प्रदान करते आ रहा यह सम्मान अगले वर्ष गीतकार तथा गायक स्वर्गीय प्रेम प्रकाश मल्ल को प्रदान किया गया था ।
नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान ने नेपाल पश्चिम के साहित्य को आगे बढाने के लियें प्रयास करने के लियें प्रा.डा.जीवेन्द्र देव गिरी ने प्रतिवद्धता किया । नेपाली भाषा साहित्य में योगदान पहु“चाने के लियें वार्षिक रुप में प्रदान बरते आया है सल्लाहकार सागर गैरे ने बताया ।
कार्यक्रम में कथाकार सुमित्रा न्यौपाने की “आँखा र आँखाहरु” कथा संग्रह की समिक्षा भी किया गया था । टिकाराम उदासी, बासुदेव पाण्डेय प्रभाकर और हरि प्रसाद तिमिल्सिना ने ग्रामीण क्षेत्रों को मिलाया गया नारीवादी कथा भी रहा है व्यक्त किया ।1

loading...