Mon. Sep 24th, 2018

काेई चराग जला लूँ अगर इजाजत हाे, उर्दु एकेडेमी द्वारा बज्मे शेर अाे सुखन मासिक गाेष्ठी का अायाेजन

७ जुलाई

उर्दु एकेडेमी द्वारा बज्मे शेर अाे सुखन मासिक गाेष्ठी का अायाेजन किया गया  । जिसमें बीस से भी ज्यादा उर्दु हिन्दी नेपाली के गजलकाराें ने हिस्सा लिया । सभी ने अपनी रचना से माहाेल काे खुशनुमा बना दिया । कार्यक्रम में  उुर्दु एकेडेमी के अध्यक्ष इम्तियाज वफा के साथ ही जमशेद अंसारी, श्वेता दीप्ति, सहर महमूद, साकीब हारूनी, सकीना खान, आवाज़ शर्मा, कैलाश सिंह ठाकुरी आँसू, गोपाल अश्क़, ख़ालिद मोह्सीन, कंचना झा, गीता मैनालि, पुष्पा धमला, अख़्तर ज़फ़र , अहमद अनसर नेपाली, कलिमुल्लाह कलिम, भुवन निस्तेज, अलीना दुलाल लाल, क़ाज़ी श्रेष्ठ अािद ने अपनी महत्तवपूर्ण उपस्थिति दर्ज करायी अाैर अपने शेर अाे शायरी के द्वारा सभी का दिल जीत लिया ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of