किसने जाना है

एक फूल खिलता है, एक छवि मिलती है
उसके पीछे कितना तप है, किसने जाना है –
कितने आँसू विखर े हैं, यह किसने जाना है
kabita

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: