कूटनीतिक मर्यादा का उल्लघंन ,आठ राजदूत सामिल हुये रात्री भोज मे ।

१५ सेप्टेम्बर, काठ्मण्डू, उपप्रधानमन्त्री तथा परराष्ट्रमन्त्री नरायणकाजी श्रेष्ठ ने यूरोपिय सघं के आठ राजदूत को रात्रि भोज पर बुलाकर गुफ्त्गु करने की बात सामने आयी है । हलाकि यह रात्रि भोज अनौपचारिक रुप से आयोजन किया गया था लेकिन कूटनीतीक क्षेत्र मे इसे आचार सहिंता का खुल्लम खुला उल्लघंन माना जारहा है। गौरतलब बात यह है कि नैम सम्मेलन के दरमियान प्रधानमन्त्री बाबुराम भट्टराई को भारतीय प्रधानमन्त्री मनमोहन सिहं के साथ हुई भेटं-वार्ता को लेकर नेपाल मे काफी आलोचना हुई थी । स्वयं पररष्ट्रमन्त्री ने ही  कूटनीतिक मर्यादा का उल्लघन कहते हुये इसे तील का ताड बनाया था । यहाँ तक की प्रधानमन्त्री व्दारा एअरपोर्ट पर आयोजित पत्रकार सम्मेलन को बहिस्कार करके सिधा घर लौट आये थे ।

अपनि सरकारी निवास पर बुधबार को आयोजित इस रात्रि भोज की जानकारी परराष्ट्र मन्त्रालय को नही दी गयी थी । आठ यूरोपियन राजदुत को बुलाकर पिछली तिखापन दुर करने का प्रयास किया था मन्त्री महोदय ने ।इसके साथ-साथ पार्टी मे भी अपनी स्थिति मजबुत करने के लिये बुलाया गया था इन यूरोपियन दुतों को । राजनैतिक और कूटनीतिक क्षेत्र मे इसे आचार सहिंता बिपरीत मानाजारहा है इस भेटंघाट को ।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: