कैसा है आपके प्रेमी का नेचर, नाम से पहले अक्षर से जानिए उसकी खास बातें

6917_aउज्जैन। हर साल 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे मनाया जाता है। यह दिन प्यार करने वालों के लिए बहुत खास होता है। इस दिन प्रेमी अपने प्यार का इजहार करते हैं और अपनी प्रेमिका को उपहार देते हैं। हर प्रेमी या प्रेमिका के मन में एक सवाल जरुर उठता है कि उसके लव पार्टनर का नेचर कैसा है, जैसा वह दिखाने की कोशिश करता है या इससे अलावा भी उसका अलग स्वभाव है।
ज्योतिष शास्त्र की दृष्टि से ये समझना बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है क्योंकि नाम यानी राशि के आधार पर भी किसी भी प्रेमी या प्रेमिका के नेचर के बारे में आसानी से जाना जा सकता है। वेलेंटाइन डे के मौके पर हम आपको बता रहे हैं आपके प्रेमी-प्रेमिका के बारे में खास बातें।

 

कैसा है आपके प्रेमी का नेचर, नाम से पहले अक्षर से जानिए उसकी खास बातें

मेष राशि
मेष राशि वाले आकर्षक और प्रभावशाली स्वभाव वाले होते हैं। इनका व्यक्तित्व रूआबदार और मर्दाना होता है जिससे हर तरह की लड़की इन पर तुरंत ही आकर्षित हो जाती हैं। मेष राशि वाले व्यक्ति जल्दबाजी में प्रेम करते हैं और इनका प्रेम ज्यादा दिन नहीं टिक पाता। कामुक स्वभाव के कारण ये लोग शारीरिक संबंध बनाने में ज्यादा विश्वास रखते हैं।
ये लोग रोमांटिक व्यक्तित्व के धनी होते हैं। मेष राशि वाले जितनी जल्दबाजी में किसी से प्रेम करते हैं उतनी ही जल्दी अधिकांशत: इनका प्रेम संबंध टूट जाता है और ये उस प्रेम के जाल से तुरंत ही बाहर भी आ जाते हैं।
वृष राशि
 वृष राशि वाले उत्तम श्रेणी के प्रेमी होते हैं। वृष राशि वालों को प्रेम संबंध बनाने में महारत हासिल होती है। ये लोग बहुत जल्द किसी से भी प्रेम संबंध बनाने में सक्षम होते हैं। इस राशि के लोग प्रेम में काफी भावुक हो जाते हैं। अपने प्रेमी या जीवन साथी के प्रति इनके प्यार की कोई सीमा नहीं होती।
इनके रिलेशन काफी मजबूत होते हैं और ये जीवनभर रिश्ता निभाते हैं। इनका वैवाहिक जीवन काफी खुशियों भरा होता है और इनका साथी भी इनके साथ बहुत सुखी और खुश रहता है। इस राशि के लोग अपने जीवन साथी या प्रेमी को हर परिस्थिति में सहारा देते हैं और उनकी परेशानियों को दूर करने का पूरा प्रयास करते हैं।
मिथुन राशि
 इस राशि के लोगों के जीवन में सामान्यत: कई प्रेम संबंध होते हैं। इसी वजह से कई लोगों की एक से अधिक शादियां भी हो जाती हंै। इनका स्वभाव विपरीत लिंग के प्रति बहुत जल्दी आकर्षित हो जाता है। यदि ऐसा कहा जाए कि मिथुन राशि वाले दिलों से खेलना बखूबी जानते हैं तो अतिश्योक्ति नहीं होगी।
ये प्रेम संबंध बनाने में माहिर होते हैं। इस राशि के अधिकांश लोग विवाह को ज्यादा महत्व नहीं देते और अन्य प्रेम संबंधों में खोए रहते हैं। ये लोग किसी जगह बंधकर नहीं रह सकते, इनका मन इधर-उधर भटकते रहता है।
कर्क राशि
 ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कर्क राशि वाले व्यक्ति प्रेम के मामले में काफी मूडी होते हैं। ये अपने रिश्ते के प्रति ईमानदार होते हैं और उसे जिम्मेदारी के साथ निभाते हैं। कई बार इनके वैवाहिक जीवन में माता-पिता के हस्तक्षेप की वजह से कई परेशानियां उत्पन्न हो जाती हैं। ये अपने जीवन साथी या प्रेमी की भावनाओं की कद्र करते हैं।
सामान्यत: इनके जीवन में विवाह के बाद काफी परिवर्तन आ जाते हैं या ऐसा कहे कि अधिकांश कर्क राशि वालों का भाग्योदय ही शादी के बाद होता है। प्रेम संबंधों को लेकर इन लोगों में निर्णय लेने की क्षमता इतनी अच्छी नहीं होती, इनका दिमाग स्थिर नहीं रहता है।
सिंह राशि
 सिंह राशि के लोग ऐसी आवाज के धनी होते हैं जिसे सुनते ही लड़कियां उनसे प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकती। इन लोगों का व्यक्तित्व सिंह के समान होता है। ये लोग खुले विचारों वाले होते हैं और आकर्षक व्यक्ति के धनी होते हैं। ये अच्छे प्रेमी होते हैं और इनके प्रेम संबंध काफी हद तक सफल रहते हैं।
प्रेम संबंधों को लेकर इन्हें विशेष महारत हासिल होती है। सिंह राशि वालों को आदर्श प्रेमी कहा जा सकता है। ये काफी भावुक और सुंदर शरीर वाले होते हैं। साथ ही ये अपने जीवन साथी या प्रेमी के प्रति काफी वफादार रहते हैं। मनमौजी स्वभाव के सिंह राशि वाले वैवाहिक जीवन को अंत तक निभाना चाहते हैं।
कन्या राशि
 कन्या राशि के लोगों की गिनती महान प्रेमियों में नहीं की जा सकती। इस राशि के लोग आकर्षक व्यक्तित्व के धनी होते हैं। किसी को भी प्रभावित करने में इन्हें महारत हासिल होती है। वैसे इन्हें अच्छे प्रेमियों के श्रेणी में रखा जा सकता है। ये काफी अच्छे और वफादार जीवन साथी सिद्ध होते हैं।
इनका वैवाहिक जीवन काफी मजबूत रिश्ते वाला होता है। अपने परिवार के प्रति इतना गहरा झुकाव होता है, परिवार के लिए ये कुछ भी त्याग कर सकते हैं। इनकी सोच केवल शारीरिक सुख प्राप्त करने की नहीं होती अपितु इनके लिए दिल से दिल का मिलन अधिक मायने रखता है।
तुला राशि
 ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि के लोगों की गिनती महानतम प्रेमियों में की जा सकती है क्योंकि इस राशि के लोग प्रेम की गहराई को काफी अच्छे से जानते हैं। ये कभी अकेले रहना पसंद नहीं करते। दु:ख की परिस्थिति में इन्हें किसी मित्र या प्रेमी के साथ और मदद की जरूरत रहती है।
इनका व्यक्तित्व काफी आकर्षक होता है, जो कि अन्य लोगों को इनकी ओर आकर्षित करता है। इनसे मिलकर कोई भी तुरंत ही मोहित हो जाता है। इस राशि के प्रेमी किसी भी व्यक्ति से मिलकर उसके स्वभाव के बारे में सही-सही अंदाजा लगा लेते हैं। इनके लिए प्रेम एक पवित्र बंधन के समान होता है।
वृश्चिक राशि
 वृश्चिक राशि के लोग विवाह पूर्व उच्च आदर्श प्रेमी होते हैं। अपने प्रेम के लिए कुछ भी कर सकते हैं और सहर्ष ही सब कुछ त्याग भी सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार वृश्चिक राशि के प्रेमी अपने साथी के प्रति पूरी तरह ईमानदार रहने का प्रयास करते हैं। इस राशि वालों में ईष्र्या की भावना भी काफी अधिक होती है।
ये अपने प्रेमी या जीवन साथी की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। इन्हें परिवार और मित्रों से पूरा सहयोग प्राप्त होता है। इन्हें रोमांटिक प्रेमियों की श्रेणी रखा जाता है। इनका शारीरिक सौंदर्य देखते ही बनता है जिससे विपरीत लिंग इनके प्रति बहुत जल्द आकर्षित हो जाता है।
धनु राशि
 इस राशि के प्रेमी काफी संवेदनशील और खुशमिजाज होते हैं। यह हर पल को खुशी के साथ गुजारना चाहते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार धनु राशि के व्यक्ति
अच्छे प्रेमी होते हैं परंतु लंबे समय तक इनका प्रेम संबंध नहीं टिकता है। इस वजह से इनके कई प्रेमी होते हैं। इन्हें हमेशा नए चेहरे आकर्षित करते हैं।
 एक प्रेमी के साथ हमेशा बंधकर रहना इन्हें स्वभाव में नहीं होता, जिससे कई बार इनका जीवन साथी या अपने प्रेमी से विवाद होता रहता है। अधिकांशत: इस राशि के लोग प्रेम में धोखा मिलने से दु:खी अवश्य होते हैं परंतु जल्द ही ये अपना नया साथी भी तलाश कर लेते हैं।
मकर राशि
 मकर राशि के लोग थोड़े जिद्दी स्वभाव के होते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इसी स्वभाव के कारण इन्हें प्रेम संबंध में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यह लोग अपने जीवन साथी को बहुत प्रेम करते हैं और उनकी सुरक्षा भी करते हैं परंतु अपनी आदतों के कारण कई बार इनका झगड़ा भी हो जाता है।
मकर राशि वाले के प्रेमियों को अच्छे प्रेमियों की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता क्योंकि इनका बदलता स्वभाव इनकी लव लाइफ को पूरी तरह से प्रभावित करता है। परंतु इस राशि के लोग एक बार जिसे अपना मान लेते हैं उसके प्रति पूरी ईमानदारी रखते हैं, ये इनका सबसे खास गुण होता है।
कुंभ राशि 
 ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस राशि के प्रेमी काफी भावुक और हर कार्य को दिल से करने वाले होते हैं। इस राशि के लोग थोड़े मूडी भी होते हैं। इनका प्रेम चिरस्थायी होता है। प्रेम में ये अति भावुक हो जाते हैं। यह लोग किसी अजनबी से भी नि:स्वार्थ प्रेम कर लेते हैं। मन से चंचल होने कारण इन्हें हमेशा नया-नया करने की आदत होती है।
इस राशि के लोग अपना जीवन स्वतंत्रता से जीना चाहते हैं। अपने जीवन साथी पर पूरा विश्वास रखते हैं। गुस्सा इन्हें कम आता हैं परंतु जब आता है तब ये खुद पर से नियंत्रण खो बैठते हैं, ऐसे में कई बार बड़ी गड़बड़ी हो जाती है। इसके परिणामस्वरूप इन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
मीन राशि
 मीन राशि के प्रेमियों का स्वभाव मछली के जैसा होता है। अत: इस राशि के लोगों में वैसे ही गुण रहते हैं। इस राशि के लोग अति भावुक होते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भावुकता के कारण यह लोग बहुत जल्द विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित हो जाते हैं और उनके प्रेम में पड़ जाते हैं। इन्हें कोई भी आसानी से प्रभावित कर सकता है।
यह लोग प्रेम में अटूट संबंध बनाए रखना चाहते हैं, परंतु इनका दिल कई बार टूटता है। वैसे तो इनकी लव लाइफ सामान्य ही रहती है। इनकी सोच होती है कि इनका लव पार्टनर इनके प्रति पूर्ण सहानुभूति रखे और समझदार हो।
http://religion.bhaskar.com/article-hf/JYO-HAS-jyts-how-is-the-nature-of-your-lover-his-favorite-things-learn-from-the-first-le-4519833-PHO.html?seq=1
Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: