क्रिसमस महाउत्सव की तैयारी, शहर–बाजार में हर्षोल्लास

काठमांडू, २४ दिसम्बर । २५ दिसम्बर ख्रीष्टियन धर्मावलम्बियों के लिए एक विशेष दिन है, इस दिन सारी विश्व क्रिसमय बन जाता है । क्रिसमस के कारण बाजार रंगीन हो रहा, दुल्हन की तरह सज रहा है । सामाजिक संजाल भी क्रिसमस के पोष्ट से भरी हुई है । स्मरणी है कि नेपाल में १२ हजार से ज्यादा चर्च है, लाखों ख्रीष्टियन हैं, वह सब हर्षोल्लास के साथ क्रिसमस मनाने की तैयारी में हैं । इस खुशीयाली में ख्रीष्टियन धर्मावलम्बी का हर घर सजावट से भरिपूर्ण हो रही है । ख्रीष्ट येशू के विश्वासियों में उत्साह भर गया है ।


उदाहरण के लिए काठमांडू गौशला स्थित ग्रेस ज्वेलर्स प्रा.लि. के प्रमुख तथा प्रतिज्ञा चर्च इमाडोल के अगुवा राजु रुचाल को ले सकते हैं । उन का घर ललितपुर जिला स्थित महालक्ष्मी नगरपालिका–९ में हैं । आप उनके घर को देखते हैं तो दुल्हा के प्रतिक्षा में रही एक दुल्हन की तरह सजी हुई है । युवा उद्यमी रुचाल ने १० आना जमीन में साढे तीन तले का घर निर्माण किया है, क्रिसमस के अवसर पर वह हर साल अपने घर को सजाते हैं । सजाने के लिए उन्होंने लगभग ५० हजार खर्च किए हैं । वह कहते हैं कि इस तरह क्रिसमस मनाना सिर्फ देखावटी नहीं है, ख्रीष्ट का जन्मोत्सव मनते हैं तो उत्साहजनक होना चाहिए ।


इसीतरह मकवानपुर स्थित हेटौडा उप–महानगरपालिका–१० स्थित (भुटनदेवी रोड, दशरथ गली सोलिडारिटी इन्टरनेसन स्कूल के पास) रमिला ट्रेडर्स के प्रमुख तथा हेटौडा स्थित नेपाल कमाने ख्रीष्टियन चर्च के पाष्टर अमित शर्मा ने भी अपनी घर को इसीतरह सजाए हैं । शर्मा हर साल ख्रीष्टमस के अवसर पर इसी तरह अपने घर को सजाते हैं । सिर्फ घर ही नहीं, वह अपने चर्च को भी इसीतरह सजाते हैं । शर्मा कहते हैं कि इस तरह के सजावट के लिए हर साल लगभग १ लाख खर्च हो जाती है । उन्होंने अपने घर किस तरह सजए हैं, वह आप यहां प्रस्तुत तस्वीर में भी देख सकते हैं ।


स्मरणीय बात यह है कि क्रिसमस के अवसर पर व्यापारियों का व्यापार भी बढ़ जाता है । ख्रीष्टयन लोग येशू ख्रीष्ट को अपने मुक्तिदाता मानते हैं, इसीलिए अपने मुक्तिदाता के जन्मोत्सव को वे लोग हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं । इस तरह का उत्सव सिर्फ नेपाल में ही नहीं, यह विश्व के कई देशों में मनाया जाता है । उत्सव में सरिक होनेवाले लोग सिर्फ ख्रीष्टयन ही नहीं होते हैं । अन्य धर्मावल्वी के लोग भी इस पर्व में शामील हो जाते हैं और येशू ख्रीष्ट के बारे में जानने के लिए उत्सुक होते हैं । विश्व में हर साल दिसम्बर २५ दिन ख्रीष्टमस मनाया जाता है । नेपाल में इस साल पौष १० गते (कल सोमबार) ख्रीष्टयन लोगों के लिए विशेष है, क्योंकि कल ही दिसम्बर २५ तारिख है । इसीलिए काठमांडू, पोखरा, धरान, हेडौटा, चितवन जैसे देश के महत्वपूर्ण शहर ही नहीं, गांव–गांव में भी ख्रीष्टयन लोग हर्षोल्लास के साथ क्रिसमस मनाते हैं । स्कुल के बालबच्चे से लेकर बड़े–बजुर्ग भी ‘मेरी क्रिसमस’ कहते हुए आपस में शुभकामना व्यक्त करते हैं ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: