खबरदार ! मर्दों की इज्जत खतरे में

विनय दीक्षित:सुनने में तो यह चौंका देनेवाली खबर है, जहाँ पुरुष प्रधान समाज की तूती बोलती है, जहाँ शामको महिलाएँ असुरक्षित मानी जाती हों, प्रशासनिक और न्यायिक निकाय में महिला उत्पीडन और बलात्कार के केस दर्ज होते हों, जहाँ सिर्फमहिला अधिकार की बातें चर्चा में हों, वहीं अगर यह बात सामने आए कि किसी महिला ने एक नहीं बल्कि एक दिन में दर्जनों पुरुषोंका रेप किया है, तो यह बिलकुल चौंका देनेवाली बात है, लेकिन वास्तविकता को भी नकारा नहीं जा सकता।mard
नेपालगंज नगरपालिका-१० निवासी एक ३५ वषर्ीय महिला ने अलग-अलग बहाने से युवाओंको अपना शिकार बनाया और यह बात तब सामने आई जब पीडित युवा की माँ ने स्थानीय पुलिस विभाग, जिला प्रशासन और महिला अधिकार सम्बन्धी काम करने वाले निकायों में यौन शोषण से मुक्ति दिलाने की गुहार लगाई।
विवाह कराने, विदेश भेजने तथा नौकरी दिलाने का आश्वासन देकर नेपालगंज के दर्जनो युवाओं को अपने जाल में फंसाना और उनके साथ अवैध सम्बन्ध बनाना महिलाका शौक है, नेपालगंज- १० निवासी २६ वषर्ीय चन्दन गुप्ता की माँ मीरा देवी बैश्य ने महिला पर यह आरोप लगाया कि उनके लडÞके का पिछले एक साल से यौन शोषण हो रहा है। यह निवेदन देख सरकारी अधिकारी भी सकते में आ गए क्योंकि यह ताज्जुब कर देनेवाली घटना थी।
घटना र्सार्वजनिक होते ही जब अलग-अलग कोण से हिमालिनी ने तथ्यों पर नजर डाला तो पता चला कि महिला से पीडित होने वाले युवाओं की लाईन लम्बी है। महिला से पीडित नेपालगंज के ११ लोग संवाददाता के सर्म्पर्क में आए। लेकिन सामाजिक छबि धूमिल होने और लोकलाज के कारण सभी ने नाम प्रकाशन न करने का आग्रह किया।
भारत उत्तराखण्ड चम्पावत जिला से भागकर नेपालगंज पहुँचे वार्ड नं.८ निवासी दो युवाओं ने जो बताया वह निहायत सनसनी मचा देनी वाली बात थी। एक युवा ने कहा- उस महिला ने हम सभी के साथ यौन सम्बन्ध वाला भिडियो बनाया है। शुरु मंे कहती थी कि अभी डिलिट कर दूँगी लेकिन उसी भिडियो के दम पर हमें बार बार ब्लैकमेल करती है। उन युवाओं ने बताया कि महिला धम्की देती है कि मेरे बुलाने पर नहीं आओगे तो मै पुलिस में केश दायर करुँगी, तुम्हारे घर में भिडियो भेजदूँगी, इसी डरसे हम उसके चंगुल में फँसे हुए हैं।
२ महीने लगातार यौन सम्बन्ध से पीडित एक युवा ने बताया, दैनिक ४/५ लोगों से यौन सम्बन्ध बनाना उसका सौख है। उसे हमारा पैसा, प्रापर्टर्ीीैसे किसी भी चीज से मतलब नहीं, उसे तो बस भरपूर आनन्द की तलाश है।
नेपालगंज-९ निवासी कुछ युवाओं के अनुसार अश्लील भिडियो बनाना, और ब्लैकमेल करना उसका पेशा है। वह स्वयं हमे पाकेट मनी भी देती थी, डर इस बातका है कि हम सभीका भीडियो उसके पास सुरक्षित है। बरेली में लगातार ५ दिन यौन शोषण से पीडित नेपालगंज-८ निवासी युवा ने बताया कि उसे बहर्राईच घुमाने के नामपर बरेली पहुँचाया गया और उसका लगातार ५ दिन प्रतिदिन ६ से ८ बार तक यौन शोषण किया गया।
हैरान कर देने वाली बात यह है कि पीडित युवाओं को भी उस महिला से पीडित वास्तविक पुरुषों की संख्या का पता नहीं है, किसी ने ८ बताया तो किसी ने २०/२५।
महिला खाने पीनेका भरपूर इन्तजाम करती है, पाकेटमनी आदिका खर्चा भी उपलब्ध कराती है फिल्म देखने जाते समय बहर्राईच से भागकर नेपालगंज पहुँचे एक युवक ने हिमालिनीको बताया कि उसका यौन सम्बन्ध मात्र एक उद्देश्य है।
युवा ने बताया कि पीडित होने वाले युवाओं की तादाद बहुत है। जो जहाँ है वहीं चुप है। कोई किसीको कुछ बताने के लिए तयार नहीं है। कानूनी कारवाही भी करें तो खुदकी बेज्जती होती है। न करें तो महिला कभी भी धम्की देकर बुला लेती है। कुछ सोचना भी मुश्किल होता जा रहा है।
नेपालगंज एकलैनी निवासी एक युवा ने कहा- पहली बार में उसने भिडियो बनाया और कहा कि अभी डिलिट करदेंगे। बाद में कहा कि इसे हमारे तुम्हारे सिवा कौन देख रहा है। डिलिट नहीं किया और मुझे ३ बार ब्लैकमेल किया। मजबूरी में मुकदमा के डर से जाना पडÞता है।
पारिवार के मुताबिक चन्दन गुप्ता की अवस्था के बारे में किसीको कोई जानकारी नहीं है। एक महीना पहले बरेली में होने का खबर था, -चन्दन के पिता राधेश्याम बैश्य ने हिमालिनी को बताया।
बैश्य ने कहा- महिला से हमने चन्दन की अवस्था के बारे में जानकारी माँगी तो उसने कहा- अपनी खैरियत चाहते हो तो लडकेको भूल जाओ, वरना मैं किसीको नहीं छोडूँगी। बैश्य ने कहा- वह कभी कभार ही नेपालगंज मे नजर आती है, लोग भी उससे डरते हैं। पुलिस कहती है- महिला पर कारवाही करने का कानून नहीं है, और कुछ नहीं करती।
ऐसी पुरुष लम्पट महिला ने ३५ वर्षकी उम्र में ३ बार शादी की है। तीसरी जगह भी वह पारिवारिक नियन्त्रण से बाहर है। बदनामी के डर से परिवार के अन्य सदस्य उसके साथ अपने परिवार का नाम नहीं जोडना चाहते, -बैश्य ने हिमालिनी को बताया।
महिला पर कारवाही कर यौन शोषण से मुक्ति दिलाने के लिए चन्दन गुप्ता की माँ मीरा देवी बैश्य ने हिम्मत तो जुर्टाई लेकिन पर्याप्त कानूनी आधार न होने के कारण कारवाही प्रक्रिया के बारे में पुलिस भी कुछ कहना नहीं चाहती।
मीरा देवी ने जिला प्रशासन कार्यालय बाँके, जिला पुलिस, राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग, इन्सेक, बाँके जिल्ला अदालत बार एकाई, पुनरावेदन अदालत बार एकाई और फातिमा फाउण्डेसन जैसे निकायों में कारवाही के लिए आवेदन दायर किया है।
इस विषय पर कारवाही के सम्बन्ध में अधिवक्ता केशव राज पन्त ने कहा- इस किसिम का केस विलकुल नया है। हमारे यहाँ तो कानूनी कारवाही दूर इस विषय पर कोई परिभाषा भी मौजूद नहीं है। अधिवक्ता पन्त ने आगे कहा- स्पष्ट नहीं कहा जा सकता कि इस मामले में कोई कारवाही होगी या नहीं। लेकिन सामाजिक सरोकार और विकृति की वात होने के कारण शारीरिक अपराध और वेश्यावृत्ति ऐन के हिसाब से कुछ कारवाही की जा सकती है।
उन्होने कहा- पुलिस इस विषय पर र्सार्वजनिक अपराध ऐन दफा २-ञ) के अनुसार भी कारवाही कर सकती है लेकिन इस बारे में भी स्पष्ट कानूनी व्यवस्था नहीं है। जिस प्रकार सामाजिक हित के विपरीत कोई विषय होता है तो समाज नियन्त्रण करता है उसी प्रकार इसे भी कानून नियन्त्रण कर सकता है। अधिवक्ता पन्त ने कहा- यदि महिला चाहे तो पुरुषों को कानूनी दाँवपेच में फंसा सकती है। इस सम्बन्ध में काफी व्यवस्था है।
स्मरणीय है कि ५ वर्षपहले कैलाली के धनगढÞी मे भी एक रिक्सा चालक के साथ कुछ युवतियों ने सामूहिक बलात्कार किया था। जिसकी खूब चर्चा परिचर्चा हर्ुइ, लेकिन रिक्सा चालकको न्याय दिलाने के लिए कानून का अभाव बताते हुये स्थानीय प्रशासन ने कुछ नहीं किया।
विगत कुछ वर्षों से महिला अधिकार के बारे में बहुत कुछ हुआ है, गरम चर्चे हुए हैं, महिलाओं को पुरुष के समान अधिकार भी मिला है, लेकिन पुरुष वर्ग का ऐसा शोषण होगा, इस बारे में किसी ने सपने में भी नहीं सोचा था। किसी ने पुरुष के अधिकारों पर बहस नहीं किया, मानो वे अधिकार सम्पन्न हैं। इसका कारण यह भी हो सकता है कि हमारा समाज पुरुष प्रधान है, लेकिन यह घटना उन सभी विषयों पर लौटकर सोंचने के लिए मजबूर कर रही है कि आखिर पुरुष भी इसी समाज के हैं और उनकी सुरक्षा भी सरकार का दायित्व है। खतरा और बढेÞ,  इससे पहले प्रशासन को सामाजिक और कानूनी रुप से समुचित हल ढूंढÞना होगा। क्योकि कानून के अभाव में कोई भी पुरुष और नारी दोनों सुरक्षित नहीं है।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz