गजेन्द्रनारायण सिंह प्रतिष्ठान द्वारा महामहिम रंजीत राय जी का विदाई समारोह

Rajdoot Bidhae
विनोदकुमार विश्वकर्मा,काठडमांडू, फरवरी २४ ।
भारतीय राजदूत महामहिम रंजीत राय जी एक कुशल प्रशासक व कूटनीतिज्ञ हैं । उनके कार्यकाल में नेपाल में बहुत ही ऐतिहासिक कार्य संपन्न हुआ । और नेपाल भारत के संबंध भी रंजीत जी के जरिये ज्यादा मजबूत हुआ । ये बातें गजेन्द्र नारायण सिंह लोककल्याणकारी प्रतिष्ठान द्वारा २३ फरवरी को आयोजित विदाई तथा सम्मान समारोह में गजेन्द्र नारायण सिंह लोककल्याणकारी प्रतिष्ठान के अध्यक्ष राजेन्द्र महतो ने कहीं ।
Rajdoot Bidhae 3
उन्होंने कहा कि नेपाल–भारत का सम्बन्ध सिर्फ दिल्ली दरबार और सिंहदरबार तक ही सीमित नहीं है । दोनों देशों में जनस्तर का सम्बन्ध है, रोटी–बेटी का सम्बन्ध है । उन्होंने यह भी कहा कि सरकार संशोधन विधेयक को दरकिनार कर जबर्दस्ती चुनाव की तारीख घोषणा की है । इस स्थिति में चुनाव कैसे होगा और देश कैसे आगे बढ़ेगा, यह बहुत बड़ा सवाल हमारे सामने मौजूद हैं ।
अवसर पर सम्मानित व्यक्तित्व भारतीय राजदूत महामहिम रंजीत राय ने कहा कि नेपाल–भारत के बीच आत्मीयता का संबंध है । भारत विकास की ओर बढ़ रहा है और वह चाहता है कि नेपाल भी तेजी से विकास करे । लेकिन विकास के लिए राजनैतिक स्थिरता चाहिए । उन्होंने बॉर्डर कनेक्टिविटी बढ़ाई जाने पर जोड़ देते हुए कहा कि भारत जैसे नेपाल भी विविधता पर आधारित देश है । इसलिए यहाँ बसनेवाले सभी जाति, समुदाय का विकास हो ।
बताया कि आनेवाले दिनों में हमारा जो सम्बन्ध है, वह और मजबूत बने । देश में राजनैतिक स्थिरता हो, दीर्घकालीन रुप में शांति की स्थापना हो । क्योंकि शांति और स्थिरता के बिना देश आगे नहीं बढ़ सकता है । मौके पर गजेन्द्रनारायण सिंह लोककल्याणकारी प्रतिष्ठान के अध्यक्ष राजेन्द्र महतो ने महामहिम रंजीत जी को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया ।
Rajdoot Bidhae 2
कार्यक्रम की अध्यक्षता गजेन्द्रनारायण सिंह लोककल्याण्कारी प्रतिष्ठान के अध्यक्ष राजेन्द्र महतो ने की तथा कार्यक्रम का संचालन सद्भावना पार्टी के महासचिव मनिष कुमार सुमन ने किया । अवसर पर विभिन्न राजनैतिक दल के शीर्ष नेताओं के साथ–साथ भारतीय राजदूतावास के डिपुटि चीफ ऑफ मिशन विनय कुमार व विभिन्न संघ संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद थे ।
loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz