गुलरिया की धानवाली मे फौजी कीड़ा प्रकोप, किसानो की परेसानी, आप भी सावधान रहिये

बर्दिया, असोज । गुलरिया के धान मे फौजी कीड़ा का प्रकोप दिखाई दिया है । फौजी कीड़ा ने अन्तिम अवस्था के धान के पत्ता को खाकर खेतो को सखाप करने के अवस्थामा पहुँचाया है ।
गुलरिया नगरपालिका के विभिन्न स्थानो मे लगाए हुए धान मे फैले फौजी कीड़ा के प्रकोप से पाका हुआ धान खा कर खेतो को सखाप करते आरहे है एक किसान ने बताया । फौजी किरो के प्रकोप गुलरिया के थारु पर्सिया,मथुराहरद्वार,खैरापुर क्षेत्र मे दिखाई दिया जिल्ला कृषि विकास कार्यालय ने बताया ।
किरो ने धान के बालो को खाकर नुक्सान किए हुए क्षेत्र मे जिल्ला कृषि विकास कार्यालय के प्रमुख परशुराम रावत तथा सरोकारवाले निकायो के प्रतिनिधी सहित के टोली ने किरा प्रभावित क्षेत् रका मंगलबार अवलोकन किया था ।
फौजी किरो के प्रकोप दिखाई दिए स्थानो मे जिल्ला कृषि विकास कार्यालय निःशुल्क रुप मे दवा प्रदान करेगी कृषि विकास कार्यालय के प्रमुख परशुराम रावत ने बताया । जिल्ला कृषि विकास के प्रविधिक ने फौजी किरो को नियन्त्रण करने के लिए १ लिटर पानी मे २ एमएल ईमिडोकोलोप्रिड नामक बिषादी मिलाकर धान के गाछ भिजने के तरिके से छिडकना पडेगा ।
पुतली प्रजाति के एक प्रकार के लार्भा कटने के लिए बाकी धान के बालो को काट कर रहे है प्रमुख रावत ने बताया । दोपहर के समय शान्त होकर बैठत है मगर रात के समय मे मात्र सक्रीय रहने एक प्रकार के किरोने धान के बालो को काटकर खा जाते है प्रमुख रावत ने बताया ।
फौजी किरो के लार्भा उत्पादन होने के बाद २५ दिन तक सक्रिय रहेते है । उही समय से वो किरे आक्रामक रुपमे हरे वनस्पति खाते है इस लिए धान बचाने के लिए नियमित विषादी का प्रयोग और देखभाल मे बिशेष ध्यान देना चाहिए ।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: