गुल्जारे अदब मासिक गजल गोष्ठी

नेपालगन्ज,(बाके) पवन जायसवाल, २०७३ बैशाख २६ गते ।
बाँके जिला के नेपालगन्ज में रही गुल्जारे अदब की मासिक गजल गोष्ठी बैशाख २५ गते शनिवार को महेन्द्र पुस्तकालय नेपालगन्ज में सम्पन्न हुआ है ।
नेपालगन्ज में रहे उर्दू साहित्यकारों की जमघट हरेक महीने के अन्तिम शनिवार होती है जिस में मासिक गजल गोष्ठी होती रहती है । उसी अनुसार बैशाख २५ गते को आयोजन किया गया था उस गोष्ठी में भारत के गजलकारों की भी उपस्थित रही थी ।

1
गजल गोष्ठी में नेपालगन्ज मेडिकल कलेज कोहलपुर के प्रोफेसर डा. सुमनकान्त झाँ के प्रमुख आतिथ्य में और भारत उत्तर प्रदेश शकार – ए उर्दू यू.पी.के अध्यक्ष शारीक रब्बानी के अतिथि में गजल गोष्ठी सम्पन्न हुई थी ।
गुल्जारे अदब के अध्यक्ष अब्दुल लतीफ शौक के अध्यक्षता समपन्न हुआ कार्यक्रम में सचिव मोहम्मद मुस्तफा अहसन कुरेशी ने कायक्रम को संचालन किया था वह गोष्ठी में “साहिल पे हमने रेत का एक घर बना दिया ” उस मिसरा पर अवधी सा“स्कृतिक विकास परिषद् बा“के जिला के अध्यक्ष सच्चिदानन्द चौब, मोहम्मद यूसुफ आरफी, सैयद् असफाक रसूल हाशमी, मौलाना नूर आलम मेकरानी, जमील अहमद हाशमी, मेराज अहमद ‘हिमाल’ लगायत लोगों ने अपनी–अपनी शैर , गजल वाचन किया था अदब के सचिव मोहम्मद मुस्तफा अहसन कुरेशी ने जानकारी कराया ।

2

Loading...