गृहमन्त्री के सहमति वेगैर ही ५० एसपी का ट्रान्सफर

काठमांडू, ११ अक्टुबर । नवनियुक्त प्रहरी महानिरीक्षक कुवेरसिंह राना ने गृहमन्त्री विजयकुमार गच्छेदार की सहमति वेगैर ही ५० एसपी और १३३ डिएसपी का ट्रान्सफर किया है । व्यवहार में इस कार्य में गृहमन्त्री और प्रहरी महानिरीक्षक के बीच सहमति होना आवश्यक माना जातेा है, लेकिन कानूनतः डिएसपी लेवल तक के अधिकारियों का ट्रान्सफर मे गृहमन्त्री की स्वीकृति की आवश्यकता नहीं पडती। गृहमन्त्री गच्छदार के इच्छा विपरित राना महानिरीक्षक बने थे ।उस समय से ही उपप्रधानमन्त्री गच्छेदार का सम्बन्ध प्रहरी महानिरीक्षक राना और प्रधानमन्त्री डा. बाबुराम भटट्राई से ठिक नही है ।
समाचार स्रोत के अनुसार मन्त्री गच्छदार ने महानिरीक्षक राना द्वारा भेजे गए ट्रान्सफर और प्रोमोशन के लिष्ट को रोक कर रखा था । लेकिन प्रहरी महानिरीक्षक राना ने अपने ‘तजबिजी’ अधिकार प्रयोग करके आज ही प्रहरी अधिकारियों का तवादला किया है । लेकिन अभी भी रिक्त रहे डिआइजी पद पर पदोन्नति करना बाँकी  है ।
प्रहरी स्रोत के अनुसार राजेन्द्र श्रेष्ठ का बढुवा होने के बाद रिक्त रहे काठमांडू महानगरीय प्रहरी परिसर में सप्तरी जिला प्रशासन में कार्यरत एसपी गणेशबहादुर थापा क्षेत्री को लाया गया है । इसी तरह महानगरीय प्रहरी अपराध महाशाखा में मोरङ से प्रद्मुम्नकुमार कार्की, काठमांडू ट्राफिक प्रहरी महाशाखा में पूर्णचन्द्र जोशी, भक्तपुर में कञ्चनपुर से दिलिपकुमार चौधरी को लाया गया है ।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz