गोल्छा समूह का वैक्सिन उद्योग छः महीने के अन्दर संचालन में

Shekhar-Golchhaकविता दास, काठमाणडू । गोल्छा समूह के द्वारा काभ्रे जिला के पाँचखाल में निर्माण किया गया वैक्सिन उद्योग आगामी छः महीने के अन्दर अपना उत्पादन बाजार में लाने वाला है । भारत के हेष्टर वायोसाइन्सेज लिमिटेड एचवीएल और गोल्छा समूह अन्तर्गत के हिम इलेक्ट्रोनिक्स के संयुक्त लगानी में उद्योग की स्थापना हुई है । एचवीएल पशुपंछीजन्य खोप उत्पादन के लिए भारत की ही एक अग्रणी कम्पनी है । साझेदारी में संचालन होने वाले उक्त भारतीय कम्पनी एचवीएल इससे पहले ही दर्जन से ज्यादा देशों में अपना उत्पादन निर्यात कर रहा है । गोल्छा समूह के कार्यकारी निदेशक शेखर गोल्छा का कहना है कि वायो टेक्नोलोजी में आधारित उद्योग के लिए अभी मशीन लगाने का काम हो रहा है । उन्होंने यह भी बताया कि इसके लिए आवश्यक जनशक्ति तथा कर्मचारी अभी भारत में प्रशिक्षण ले रहे है। । छः महीने के बाद जब वो अपना प्रशिक्षण समाप्त कर वापस आएँगे तभी नेपाल में इसका उत्पादन शुरु होगा । उद्योग के लिए भवन निर्माण हो चुका है । वैक्सिन अति संवेदनशील होने के कारण इसके उत्पादन के लिए उच्च गेणस्तरीय उपकरण का प्रयोग किया जा रहा है । कार्यकारी निदेशक गोल्छा ने कहा है यूरोप और अमेरिकी स्तर का उद्योग निर्माण हो रहा है । पोल्ट्री फार्म तथा धरेलु पशु सम्बन्धी वैक्सिन उत्पादन करने वाली यह कम्पनी नेपाल की नम्बर वन कम्पनी होगी ऐसा दावा गोल्छा समूह ने किया है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz