गौचन हत्या के मुख्य योजनाकार बस्नेत नारायणघाट से गिरफ्तार

काठमांडू | नेपाल निर्माण व्यवसायी महासंघ के अध्यक्ष शरदकुमार गौचन की हत्या के मुख्य योजनाकार समिरमान सिंह बस्नेत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है । नेपाल प्रहरी के केन्द्रिय अनुसन्धान ब्युरो (सिआईबी) ने डेढ महिना से फरार रहे हत्या के मुख्य योजनाकार ३४ बर्षिय बस्नेत को गिरफ्तार किया है । सिआइबी द्वारा तैनाद किए गये टोली ने बस्नेत को चितवन से गिरफ्तार किया ब्यूरो के प्रमुख एंव डिआईजी पुस्कर कार्की ने इसकी जानकारी दी । गौचन का असोज २३ गते राजधानी के शान्तिनगर स्थित खरिबोट नजदिक दोपहार पौने ३ बजे मोटरसाइकल मे आए दो युवा ने गाडी मे ही गोली मरकर हत्या किया था । प्रहरी ने इस से पहले गौचन के हत्या मे संलग्न सुटर सहित सात ब्यक्तियो को गिरफ्तार किया था । गिरफ्तार होने में मुख्य सुटर नुवाकोट के राजीव लामा स्याङ्तान, पर्सा के शिवजी महतो, भारत विहार के मुकेश पाण्डे थे । उसी तरह चितवन के सन्तोष गुरुङ, नागार्जुन के प्रकाश बुढाथोकी, ताप्लेजुङ के वसन्त थेबे और पाँचथर के धनराज योङहाङ थे । लेनदेन के विषय को लेकर घटना हुआ अनुसन्धान से पता चला है ब्यूरो के प्रमुख एंव डिआईजी कार्की ने बताया । उन्होने बिरगंज से विराटनगर तक जोड्ने वाली हुलाकी मार्ग के ठेक्का कमिशन वापत के दो प्रतिशत रकम माँगा था । मगर उसे वेवास्ता करने के कारण हत्या हुआ है अनुसन्धान मे संलग्न एक पुलिस अधिकारी ने बताया । विगत दो साल ६ महिना से नेपाल सरहद के बाहर भारत लगायत तिसरे मुलुक मे रहते आरहे बस्नेत नेपाल के व्यवसायीओ को धम्काकर, तर्साकर, आतंकित कर के रकम लेते आरहे थे । मगर कुछ दिन पहले बस्नेत नेपाल आए हुए है ऐसा सुचना पुलिस को मिली थी । उसी सूचना के आधार पर ब्यूरो द्धारा तैनाद टोली ने बस्नेत को चितवन के नारायणघाट से शनिबार गिरफ्तार किया था । । हत्या के मुख्य योजनाकार बस्नेत ने फरार अभियुक्त मनोज पुन से मिलकर गौचन के हत्या को अन्तिम रुप दिया था

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: