घर के दरवाजे के साथ खुलता है भाग्य भी

नन्दकिशोर  शर्मा

काफी हद तक घर  के  मुख्य द्वार  पर  निर्भर  कर ता है  कि वहाँ र हने  वाले  लो गों का भाग्य कितना अच्छा है  औ र  वह अपने  जीवन में कितनी उपलब्धियां हासिल करेंगे  – इसी वजह से  वास् तु के  अनुसार  कई ऐ से  नियम बताए गए हैं जो  हमारे  भाग्य को  मदत कर ते  हैं । वास् तु के  अनुसार  दर वाजो ं से  पाँजीटिव ओ र  ने गे टिव दो नो ं प्रकार  की एनर्जी प्रवे श कर ती है  । यदि दर वाजे  में वास् तु दो ष हो ंगे  तो  ने गे टिव एनर्जी घर  में ज्यादा प्रभाव डालती है  औ र  पाँजीटिव इफे क्ट को  कम कर ती है  ।
वास् तु शास् त्र में दर वाजो ं पर  विशे ष ध्यान दिया गया है  औ र  दर वाजे  से  संबंधित कई उपयो गी वास् तु टिप्स दिए गए है ं । वास् तु के  अनुसार  यदि दर वाजा बंद कर ने  या खो लने  पर  किसी भी प्रकार  की आवाज आती है  तो  यह शुभ नहीं हो ता है  । ऐ सा हो ने  पर  घर  के  सदस् यो ं को  मानसिक तनाव तो  झे लना पडÞता है  साथ ही नकार ात्मक ऊर्जा भी सक्रिय हो  जाती है  । घर  मे ं धन के  प्रवाह पर  बुर ा प्रभाव पडÞता है  । इसी वजह से  दर वाजा बंद कर ते  औ र  खो लते  समय आवाज नहीं आनी चाहिए । दर वा जा अंदर  की ओ र  खुलना चाहिए, शुभ र हता है  ।
दर वाजे  के  वास् तु दो ष को  दूर  कर ने  का सबसे  अच्छा उपाय यही है  कि इस पर  कोर् इ शुभ चिन्ह लगा दिया जाए । शुभ चिन्ह जै से  गणे शजी का चित्र, स् वस् ितक, ç आदि बनवाए जा सकते  है ं । ऐ सा कर ने  पर  कुछ समय मे ं घर  के  सभी सस् दयो ं के  भाग्य को  बल मिले गा औ र  समस् याएँ दूर  हो ंगी ।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz