चारा घोटाला मामला : राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद दोषी करार, पूर्व सीएम डा.जगन्नाथ मिश्रा बरी

{हिमालिनी के लिए मधुरेश प्रियदर्शी की रिपोर्ट}

रांची/पटना– सीबीआई की विशेष अदालत ने चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद को दोषी ठहराया है. लालू को कितने साल की सजा होगी इसका एलान 3 जनवरी को होगा. इससे पहले इसी मामले में सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री डा.जगन्नाथ मिश्रा को कोर्ट ने बरी कर दिया.सीबीआई के जज शिवापल सिंह ने शनिवार की शाम करीब पौने चार बजे अपना फैसला सुनाया.

कोर्ट के फैसले से पहले लालू समते उनके छोटे बेटे तेजस्वी के चेहरे पर शिकन के भाव देखने को मिले थे. इसके बाद यह तय माना जाना जा रहा था कि लालू इस मामले में दोषी करार दिए जा सकते हैं?

इस फैसले के बाद अब लालू प्रसाद का नया साल रांची के बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में बितेगा. जेल में जरुरी इंतजाम कर लिये गये हैं. फिलहाल इस जेल में 2700 कैदी बंद हैं, जबकि इंतजाम 3500 कैदियों का है. फिलहाल इस जेल में बीजेपी के झरिया से एमएलए संजीव सिंह, पूर्व मंत्री राजा पीटर और पूर्व कांग्रेस विधायक सवाना लकड़ा भी बंद हैं. जेल आईजी हर्ष मंगल के मुताबिक जेल के वीआईपी वार्ड में जगह की कमी नहीं है.

बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल की पहली मंजिल पर खास वीआईपी वार्ड है.वीआईपी वार्ड में पांच कमरे हैं. यहां अमुमन दो कैदियों को एक सेल में रखा जाता है. लेकिन पूर्व सीएम और सांसद की स्थिति में उन्हें अलग सेल में रखा जाता है. राजद सुप्रीमों को चारा घोटाले में दोषी करार दिए जाने के बाद बिहार की राजनीति में उबाल आ गया है। राजद विरोधी दलों ने लालू एडं फैमिली पर हमला तेज कर दिया है।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: