चीन ने बनाया विश्व का सबसे विशाल पानी व वायु का जहाज

मालिनी मिश्र, काठमाण्डू, २४ जुलाई ।

चीन अविष्कारों के लिए ही प्रसिद्ध नही है वरन् विश्व में न हो सकने वाले कामों को कर दिखाने की सूची में भी आगे है ।

चीन ने हवा में उडने व पानी में तैरने वाले जहाज का निर्माण किया है । चीन की समाचार एजेन्सी सिन्हवा के अनुसार एम्फिबियस एयरक्राफ्ट बनाने में चीन को ७ साल लग गये । इस प्रक्रिया में समुद में राहत अभियान व जंगल में लगाये जाने वाली आग जिससे जंगल को साफ किया जाता है, का प्रयोग किया गया है ।

chin

स्त्रोत के अनुसार बोइंग ७३७ के आकार का ही ये एयरक्राफ्ट जिसका नाम एजी६०० है, जिसको सरकारी कंपनी एभिएसन कार्पोरेशन अफ चाइना(एभीआइसी) ने बनाया है । विगत ७ वर्ष से शुरु हुए इस काम का निष्कर्ष अन्तिम शनिवार को देखने को मिला । एवीआई के उपप्रबंधक ने इस विमान को उड्डयन क्षेत्र में नयी उपलब्धि बतायी है । इस विमान की उच्चतम उड़ान क्षमता ४५०० किमी. है व २० सेकेण्ड में १२ टन पानी जमा कर सकता है तथा ५३.५ टन भार के बराबर उड़ान भरने की क्षमता है ।

loading...