चुनाव में राजपा को शामिल करानें के लिए सरकारद्वारा आग्रह, संशोधन बगैर नजानें की अडान


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, ११ जून ।
सत्तारूढ़ दलों और राष्ट्रीय जनता पार्टी के बीच राजपा को दूसरे चरण के चुनाव में सहभागी कराने के विषय में विचार–विमर्श हुआ ।

सिंहदरबार स्थित प्रधानमंत्री तथा मंत्रिपरिषद कार्यालय में हुए विचार–विमर्श में सरकारी पक्ष ने राजपा की माँगों के विषय में बातचीत करने के साथ साथ चुनाव में सहभागी होने का प्रस्ताव रखा पर कोई सहमति नहीं हो सकी ।

प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउवा ने संविधान संशोधन कर तराई–मधेश की जनता की माँगों का संबोधन करने के लिए सरकार को प्रतिबद्ध बताते हुए कहा कि फिलहाल चूँकि दो तिहाई बहुमत पहुँचना असंभव है, इसलिए दूसरे चरण के स्थानीय तह का चुनाव होने के बाद प्रमुख प्रतिपक्षी दल के साथ सहमति करके संविधान का संशोधन किया जाएगा ।

बैठक में प्रधानमंत्री देउवा के साथ साथ नेपाली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामचंद्र पौडेल, नेता विमलेन्द्र निधि, माओवादी केन्द्र के अध्यक्ष पुष्पकमल दाहाल ‘प्रचण्ड’, नेता नारायणकाजी श्रेष्ठ, उपप्रधानमन्त्री एवम् लोकतान्त्रिक फोरम के अध्यक्ष विजयकुमार गच्छदार, राजपा की ओर से अध्यक्ष मण्डल के सदस्य राजेन्द्र महतो को छोड़कर बाकी पाँचों ही सदस्य सहभागी थे ।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz