जनकपुरधाम की दुर्दशा, नेता महल में जनता सडक में,

कैलास दास | जनकपुरधाम, २८ साउन । लगातार वर्षा के कारण जनकपुर की सडके नदी में परिणत गई है | युवाओ द्वारा सडक पर ही नाव चलाई गई है । जनकपुर की आत्मा कहलाने वाला रामानन्द चौक जलमग्न होने के कारण वहाँ लोगों ने नाव चलाया है |  एक तरफ लगातार वर्षा के कारण जनकपुरवासी का जीवन कष्टकर बनती जा रही है तो दुसरी ओर युवाओं ने नाव पर चढकर जनकपुर की दुर्दशा दर्शाया है ।

ऐतिहासिक एवं धार्मिक नगरी जनकपुरधाम में नाला व्यवस्थापन नही होने के कारण यहाँ का अधिकांश सडको पर नदी की तरह पानी बह रहा है । करीब सौ घरों मे पानी घुसने से कष्टकर जीवन व्यतित करने को बाध्य हो चुका है ।

जनकपुर को आधुनिक जनकपुर बनाने के लिए एशियाली विकास बैंक के ऋण सहयोग में यहाँ का नाला तथा सडके निर्माण दो वर्ष मे ही होना था । किन्तु अभी तक अधुरा काम होने के कारण नाला जाम होने से जनकपुरवासी का कष्टकर जीवन विताना पड रहा स्थानीयवासी को मानना है ।

तराई/मधेश के जिलो में शुक्रवार और शनिवार लगातार पानी परने से धनुषा, महोत्तरी, सप्तरी, सिरहा, सर्लाही का सैकडौं घर डुबान में  है । विशेष कर ग्रामीण और शहर बीच का सम्बन्ध विच्छेद हो चुका है । अधिकांश सडके वर्षा का कारण टुटफुट गई है तो गावँ मे पानी ही पानी दिख रहा है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz