जनकपुर में नया साल पर अबतक का सबसे ज्यादा पर्यटक

jnk-toorist

कैलास दास, जनकपुर, २ जनवरी । अग्रेजी का नयाँ वर्ष २०१७ के पहला दिन १ जनवरी को जनकपुर में अभी तक का सबसे ज्यादा पर्यटक आने की जानकारी पर्यटन कार्यालय जनकपुर ने दी है । धार्मिक और साँस्कृतिक नगरी जनकपुर में पर्व त्योहार में हजारौं श्रद्धालुगण आया करतें है । किन्तु नयाँ वर्ष ने इसबार रिकोर्ड तोड दी है ।
जानकी मन्दिर, राम मन्दिर, जनक मन्दिर, गंगासागर आरती घाट, रंगभूमी मैदान, कभर्ड हल, स्वर्गद्वार, धनुषाधाम सहित के धार्मिक स्थलो पर पर्यटक की संख्या उल्लेख देखि गई । पर्यटकीय गाडी में सबसे ज्यादा भारतीय नम्वर की गाडी जनकपुर आए है । सवारी साधन को व्यवस्थापन करने में ट्राफिक कार्यालय जनकपुर का पसिना छुट गया था । एक ओर भारतीय नम्वर प्लेट की गाडी की भीड थी तो दुसरी तर्फ पैदल यात्री की संख्या भी उतना ही ज्यादा ।
भारत— बिहार के सीतामढी, दरभंगा, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, मधुबनी, बेगुसराय तथा नेपाल के सिरहा, सर्लाही, सिन्धुली, महोत्तरी, बारा, पर्सा सहित के जिलो का पर्यटकगण नयाँ वर्ष जनकपुर में मनाने के लिए आए थे । भारत से आए हुए पर्यटक गंगासागर तथा धनुषसागर पोखरी में स्नान कर जानकी मन्दिर, राममन्दिर, राजदेवी मन्दिर, संकटमोचन सहित के धार्मिक स्थलो में पूजापाठ कर पिकनिक स्थल गये थे ।
उसी प्रकार नेपाल के विभिन्न जिला से आए हुए पर्यटक कभर्ड हल, एयरपोर्ट के आसपास, रंगभूमी मैदान जैसा खाली जगहो पर साँस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजना कर पिकनिक मनाया था । इसवर्ष भारतीय तथा नेपाली गाडी से जनकपुर का जनक चौक, भानुचौक, जानकी चौक, जनक मन्दिर आसपास, राममन्दिर आगे, रंगभूमी मैदान पर लगी थी । जानकी चौक में कुछ युवाओं ने वेलकम न्यू एयर २०१७ लिखकर हिन्दी, भोजपुरी मैथिली गीत बजार कर पर्यटकको आनन्दित किया था ।
इसवर्ष १० हजार से ज्यादा पर्यटक नयाँ वर्ष में भारत से आए है पर्यटन कार्यालय जनकपुर ने जानकारी दी है । भारतीय राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, चर्चित योगगुरु रामदेव बाबा सहित का व्यक्तियो को जनकपुर आने से प्रचार प्रसार ज्यादा हुआ है, इस लिए पर्यटक की संख्या में वृद्धि हुयी है अनुमान लगाया जा रहा है ।
नयाँ वर्ष में विशेषकर यहाँ मांसाहारी सामाग्री ज्यादा बिक्री होती थी। किन्तु इस वर्ष मिष्ठान्न सामानो की ज्यादा बिक्री हुई होटल व्यवसायी संघ का अध्यक्ष दशरथ साह का मनना है । बाहर से आए हुए पर्यटक मिष्ठान्न भोजन किया है ।
इधर बिहार सरकार ने भारत में दारु की बिक्री में निषेध करने के कारण नयाँ वर्ष अधिकांश व्यक्ति नेपाल में मनाने आए हुए है स्थानीयवासी लोगो का मानना है । नेपाल में पर्याप्त मदिरा पिने को मिलता है और धार्मिक दृष्टि से जानकी मन्दिर दर्शन, मनोरञ्जन भी हो जाऐगा यही सोचकर इसबार भारतीय पर्यटक जनकपुर में ज्यादा आए है स्थानीय लोगो को मानना है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz