जनकपुर मे एडीबी की स्थिति डमाडोल, दुसरे जगह की तलाश

Janakpur For Janakpur Reportकैलास दास,जनकपुर, साउन ११ । एकीकृत सहरी विकास के लिए एशियाली विकास बैंक ने जनकपुर नगरपालिका को जो एक अर्ब ८२ करोड ऋण सहयोग में दिया था वह फिर से एक बार विवाद में आ गया है ।

जनकपुर के सौन्दर्यीकरण और यहाँ के सडक, नाला सहित के व्यवस्थापन के लिए यह रकम  नेपाल के चार नगरपालिका में दिया गया था । लेकिन ल्याण्डफिल  विवाद के कारण यहाँ से जाने की सम्भावना है ।

एकीकृत विकास के लिए ल्याण्डफिल की आवश्यकता होती है और वह धनुषा के क्षेत्र नं. ३ फुलगामा में उपर्युक्त होने के वावजूद भी स्थानीयवासी के विरोध करने के बाद यह विवाद उत्पन्न हुआ है ।

एशियाली विकास बैंक के उच्च स्तरीय प्राविधिक टोली ने जनकपुर नगरपालिका के फोहर व्यवस्थापन के लिए फूलगामा के जमीन सबसे ज्यादा उपयुक्त रहने का प्रतिवेदन भी दे चूका है ।

धनुषा निर्वाचन क्षेत्र नं. ३ में एशियाली विकास बैंक के शर्त अनुसार गुठी संस्थान से २० वर्ष के लिए जनकपुर नगरपालिका ने वार्षिक ३ लाख देने के शर्त पर लिज पर ले चुका है जानकारी होने के बाद भी यह विवाद अभी तक कायम है । खास कर ल्याण्डफिल विवाद के कारण यहाँ से एडीबी फिर्ता होने की विशेष सम्भावना है ।

एशियाली विकास बैंक के उच्च स्तरीय प्राविधिक टोली ने चार नगरपालिका के कामकाज के बारे में जानकारी कराने पर धनुषा में अत्यधिक विवाद होने की बात प्रतिवेदन मे उल्लेख  है । प्रतिवेदन में यह भी उल्लेख है कि काम अगर शीघ्र नही प्रारम्भ किया गया तो यहाँ से एडीबी परियोजना चला जाऐगा ।

एडिबी के योजना मे रुकावट से जनकपुर नगरपालिका के पदाधिकारी एवं एकिकृत शहरी विकास आयोजना भी चिन्तित है । एडिबी के कार्यक्रम अन्तगत नगर में चिन्ह लगाने का काम मात्र नही भवन भी तोडने का काम हो रहा है ।

इस विषय को लेकर रविवार साम में जनकपुर नगपालिका ने आकस्मिक रुप में सर्वदलीय वैठक भी रखा था । लेकिन समाचार लिखने तक क्या निष्कर्ष लिकला इसकी किसी प्रकार की जानकारी नही मिला है।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz