जब तक सांस तब तक आस

 काठमांडू, २९ अगस्त । अपनी ढुल मुल नीति के लिए माने जाने वाले नेता विजय कुार गच्छदार, सत्ता के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं ।
bhim-bijaya
यद्यपि सत्तारुढ दल नें इन्हें सरकार में शामिल करने का कोई भी मन नहीं बनाया है पर गचछदार अभी भी सपने में ही जी रहे हैं । इसका एक उदाहरण है कि ओली सरकार के गिरते ही मंत्रियों नें पुल्चौक स्थित मंत्री क्वार्टर को खाली कर दिया पर भौतिक योजना व निर्माण मंत्रालय सम्भालने वाले गच्छदार नें अभी तक क्वार्टर नहीं खाली किया है । ये किस निर्माण की प्रक्रिया में हैं पता नहीं? गच्छदार क्वार्टर में न रहने पर भी फिर मंत्री बनने की आशा में चाभी अपने ही पास रखते हैं । उनका कहना है कि मैं तो फिर मंत्री बनके आ ही जाउंगा और अभी फिर सामान को इधर उधर करने क ाझंझट भी होगा इसलिए चाभी अपने ही पास रखी है । इस तरह की बात सुनने के बाद, विभाग भी अचम्भित है व कुछ न करने की स्थिति में है ।  विभाग व व्यवस्थापन द्वारा पूछताछकरने पर जवाब ये मिलता है कि कु ही दिनों में मैं वापस  ही आजाउंगा । इसी तरह ओली सरकार में उप प्रधानमंत्री व रक्षामंत्री का पद सम्हालने वाले  भीम रावल ने भी क्वार्टर खाली करने में कोताही की है । हालचाल
loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz