जिला सभापतियो ने कहा, स्थानीय तह(स्तर) पाँच सौ ६५ किसी भी हाल में स्वीकार्य नहीं

काठमाण्डू, भाद्र ६
नेपाली कांग्रेस के जिला सभापतियों ने  कहा कि स्थानीय तह की संख्या ५ सौ ६५ किसी भी हालत में मान्य नहीं है  ।
काठमाण्डू में दो दिन से जारी कांग्रेस जिला सभापतियों के सम्मेलन ने उक्त निष्कर्ष निकालते हुए कहा है कि स्थानीय तह की संख्या भूगोल व जनसंख्या को आधार मानते हुए १ हजार से १२ सौ तक होने चाहिए ।

g]kfnL sfFu|];sf] 5nkmn sfo{qmd g]kfnL sfFu|]; kf6L{ s]Gb|Lo ;ldltn] cfOtaf/ sf7df8f}Fdf cfof]hgf u/]sf] ufpFkflnsf, gu/kflnsf tyf ljz]if ;+/lIft jf :jfoQ If]qsf] ;ªVof Pjd l;dfgf lgwf{/0fsf nflu ;'emfj lng kf6L{sf s]Gb|Lo kbflwsf/L Pjd ;b:o / &% lhNNff ;efkltsf] 5nkmn sfo{qmdsf ;xefuLx? . tl:a/ M /f]zg ;fksf]6f, /f;;

सम्मेलन में सात प्रदेशों के अन्तर्गत के जिला के सभापतियों का समूह बनाकर विचार विमर्श किया गया था । विमर्श से निकाले गये निष्र्कष के विषय में बैठक में जानकारी करायी जा चुकि है ।
प्राप्त जानकारी के मुताविक अब तक ४ प्रदेश के सभापतियों ने अपना निष्कर्ष पेश किया हैं । सभी ने १ हजार से १२ सौ तक ही स्थानीय तह होने की बात रखी है ।
सम्मेलन में स्थानीय तह पुनर्संरचना आयोग द्वारा स्थानीय तह की सीमा तथा संख्या निधर्नरण करते हुए अपनाए जाने वाले मापदण्ड के विषय में भी विमर्श किया गया ।
गाँउपालिका, नगरपालिका तथा विशेष संरक्षित व स्वायत्त क्षेत्र की संख्या तथा सीमांना निर्धारण आयोग ने स्थानीय तह की संख्या ५ सौ ६५ होने का  प्रतिवेदन पेश किया है । यद्यपि कांग्रस सभापतियों के सम्मेलन ने हाल के ही गाविस तथा नगरपालिका को ही स्थानीय तह में रुपान्तरण करने का सुझाव समेत दिया है ।
Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz