जॉब में टिकना नहीं चाहते हैं भारतीय

जॉब की मारामारी के बीच भी भारतीय लोग नौकरी बदलने की जबर्दस्त ख्वाहिश रखते हैं। एक सर्वे के मुताबिक, देश में हर तीन में से एक कर्मचारी दो साल के भीतर अपनी नौकरी बदलना चाहता है। हालांकि, ग्लोबल लेवल पर हर 5 में से एक कर्मचारी ऐसा करना चाहता है।

दुनिया की जानी-मानी मैनेजमेंट कंसल्टेंसी हे ग्रुप ने यह सर्वे किया है। इसके मुताबिक, कंपनी के प्रति निष्ठा के मामले में भारतीय कर्मचारी पिछड़ रहे हैं। इसके अलावा पिछले पांच साल में दुनिया के सभी अहम हिस्सों में कंपनी के प्रति निष्ठा में गिरावट आई है। ग्रुप के भारतीय मामलों के एमडी गौरव लाहिड़ी ने कहा, यह चिंता की बात है कि भारतीय संगठनों के सिर्फ 40 प्रतिशत कर्मचारी ही अगले पांच साल तक उसके साथ जुड़ा रहना चाहते हैं।

लाहिड़ी ने कहा, हताश कर्मचारी कंपनी के साथ लंबे वक्त तक जुडे़ रहना नहीं चाहते। कंपनियों के लिए यही सही मौका है जब वे निचले स्तर पर सुधार करें। सर्वे में यह भी कहा गया कि दुनियाभर के दो-तिहाई कर्मचारियों का मानना है कि उनके ऑफिस में उनकी काबिलियत के मुताबिक काम करने का मौका मिलता है।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: