टीकापुर घटना को लेकर फिर प्रधानमंत्री क्या कहा ? जानने के लिए क्लिक करें


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, १९ मई ।
प्रधानमन्त्री पुष्पकमल दाहाल ‘प्रचण्ड’ के निजी सचिवालय ने कहा है कि कैलाली के टीकापुर लगायत स्थानों में हुई घटनाओं में शामिल जघन्य अपराध के दोषियों पर लगाए गए मुकदमे वापस नहीं लिए जाएँगे ।
सचिवालय ने आज एक बयान जारी करते हुए इस बात की जानकारी दी है । गुरुवार को हुई मन्त्रिपरिषद् की बैठक में तराई–मधेश आन्दोलन को राजनीतिक आन्दोलन के रूप में स्वीकार करने के किए गए निर्णय को लेकर विभिन्न संचार क्षेत्रों से आए समाचारों को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए सचिवालय ने बयान जारी किया है ।
मन्त्रिपरिषद् की बैठक ने टीकापुरलगायत हत्या की घटनाओं में शामिल न होने पर भी आशंका या पूर्वाग्रह के बिना पर ही लगाए गए झूठे मुकदमों को ही कानून मंत्रालय के परामर्श पर कानुन के तहत वापस लेने का गृहकार्य करने का गृह मन्त्रालय को निर्देशन दिया था ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz