Mon. Sep 24th, 2018

ढल्केबर में चिनियां कम्पनी असफल, भारतीय कम्पनी सफल

धनुषा, १५ जुलाई । निर्माण कार्य में चिनियां कम्पनी असफल साबित होने के बाद भारतीय कम्पनी को दिया गया ढल्केबर सव–स्टेशन निर्माण कार्य सम्पन्न हुआ है । नेपाल विद्युत प्राधिकरण के अनुसार १६० एभीए क्षमता की ट्रान्सफरमर चार्ज कार्य शनिबार शाम सम्पन्न हो गया है । नेपाल–भारत अन्तरदेशिय प्रसारण लाइन की उक्त सब–स्टेशन में निर्मित २२०–१३२ केभी क्षमता की परीक्षण शनिबार सम्पन्न हो गया है, दूसरा परीक्षण हो रहा है । उक्त सब स्टेशन में १६० एमभीए का दो ट्रान्सफर्मर जडित है ।


पहले उक्त सब–स्टेशन निर्माण के लिए चिनियां ठेकेदार कम्पनी सिसिपीजी को दिया गया था । लेकिन उक्त कम्पनी की लापरवाही के कारण काम नहीं हो पाया । इसीलिए उक्त कम्पनी के साथ की गई सम्झौता २२ सितम्बर २०१७ में रद्द करते हुए सब स्टेशन निर्माण की जिम्मेदारी भारतीय कम्पनी टेल्मस और एम्को को दिया गया । उक्त सब–स्टेशन में निर्मित १३२ केभी क्षमता की ट्रान्सफर्मर को चार्ज किया गया है । अब उक्त प्रसारण लाइन से २२० केभी थप विद्युत आयात–निर्यात किया जा सकता है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of