तामाकाेशी तीसरा राताेंरात कम्पनी काे हस्तांतरित

२६ अक्टुवर

राजनीतिक दलाें का ध्यान आमनिर्वाचन में केन्द्रित हाेने के समय ऊर्जा मन्त्रालय ने सम्पूर्ण अध्ययन हाे चुके ६५० मेगावाट के तामाकोसी तीसरी (अर्ध जलाशययुक्त) आयोजना बिनाप्रतिस्पर्धा के राताेंरात एक कम्पनी काे दे दिया है ।

लगानी बोर्ड द्वारा प्रतिस्पर्धा द्वारा आयोजना विकास कराने की तयारी  अवस्था के बीच ऊर्जा मन्त्रालय ने टीबीआई होल्डिङ कम्पनी काे ऊर्जामन्त्री महेन्द्रबहादुर शाही बिनाविभागीय मन्त्री में रूपान्तरण हाेने के बाद सर्वेक्षण अनुमति पत्र (लाइसेन्स) दिया है।

नर्वे के एसएन पावर ने वातावरणीय प्रभाव मूल्यांकनसमेत तैयार कर अध्ययन पूरा हुए तामाकोसी तीसरे से ०७२ पुस २८ गते हाथ खींच लेने के बाद यह आयोजना लगानी बोर्ड मातहत में अाया था ।

लगानी बोर्ड ऐन, २०६४ ने ५ साै मेगावाट से अधिक का जलविद्युत् आयोजना की बन्दोबस्त् बोर्ड द्वारा करने का प्रावधान है।लगानी बोर्ड प्रतिस्पर्धामार्फत यह आयोजना निर्माण करने की आवश्यक प्रक्रिया अाैर कागजात तयारी कर रहे ‘मोडालिटी’ सम्बन्धी ऊर्जा मन्त्रालय के राय परामर्श के लिए  पत्राचार करने की बात बोर्ड के कार्यकारी निर्देशक महाप्रसाद अधिकारी ने कही ।

अन्नपूर्ण पाेस्ट से

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: