Wed. Sep 19th, 2018

तिलाठी बाढ समस्या हेतु नेपाल भारत नागरिक समिति

राजविराज, सावन १७ गते

प्रत्येक वर्ष सप्तरी के तिलाठी, सकरपुरा, लौनिया आदि स्थान में खाँडो और त्रियुगा नदी में आई बाढ से स्थानीय वासी पीडित होते रहे हैं इसी विषय को लेकर सम्बद्ध निकाय का ध्यान आकर्षित हुआ है

सप्तरी के राजविराज में सोमबार आयोजित समुदाय की सहभागिता के द्वारा जलस्रोत कूटनीति निर्माण के लिए आयोजित जिला स्तरीय अन्तरक्रिया कार्यक्रम में वर्षौं से नेपाली भूभाग डुबान में पडता है फिर भी नेपाल और भारत दोनों पक्ष कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं । इस वजह से स्थानीय वासी खुद पहल कर समाधान खोजने की कोशिश कर रहे हैं ।
कार्यक्रम में प्रोपब्लिक काठमाडौँ के वरिष्ठ अधिवक्ता एवं कार्यकारी अध्यक्ष प्रकाशमणि शर्मा ने कहा है कि जलस्रोत सम्बन्धी दो देशों के झगडे से किसी को भी फायदा नहीं होने वाला है । दोनों तरफ की जनता को भी लडाइ से नहीं बल्कि आपसी विचार और सद्भाव सहयोग से समस्या का समाधान खोजना चाहिए ।

क्रेस नेपाल, राजविराज के आयोजना तथा प्रोपब्लिक, काठमाडौँ और भारतीय वातावरण तथा कानूनी संस्था, नयाँ दिल्ली, भारत के सहयोग में आयोजित कार्यक्रम में प्रमुख जिला अधिकारी कृष्णबहादुर कटुवाल, स्थानीय विकास अधिकारी सुदेव पोखरेल, महिला तथा बालबालिका कार्यालय की अनिता चौधरी, अधिकारकर्मी आभासेतु सिंह आदि स्थानीयवासी और सञ्चारकर्मी की सहभागिता थी ।

इधर, नेपाल–भारत खाँडो त्रियुगा समस्या समाधान नागरिक पहल समिति का भी गठन किया गया है ।

नेपाली पक्ष से तिलाठी गाविस के निवर्तमान अध्यक्ष दिनेश्वर मिश्र के संयोजकत्व में नीरज झा, देवनारायण यादव, अमीर झा, कृपानन्द झा, आभासेतु सिंह, उपेन्द्र साहलगायत १६ सदस्य हैं ।

भारतीय पक्ष से रामप्रवेश यादव के संयोजकत्व में रवीन्द्र कामैत, धीरेन्द्र मेहता, प्रकाशचन्द्र मेहता लगायत १५ सदस्यीय समिति गठन किया गया है ।

 

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of