Sun. Sep 23rd, 2018

दशैं में काठमांडू में लगभग १ अर्ब का खंसी बोका और भेरा की बिक्री

काठमांडू, आश्विन , २८ | राजधानी में इसबार दशैं के ६ दिन में लगभग एक अर्ब रुपया की खंसी बोका और भेरा की बिक्री हुई है | व्यवसायी और खाद्य संस्थान मार्फत करिब ५८ हजार खसी बोका और भेरा की बिक्री हुई है । संस्थान और चौपाया व्यवसायी संघ कलंकी के तथ्यांक अनुसार ६ दिन में करिब ४७ हजार ८ सय खसीबोका औरभेराकी बिक्री हुई ।

khashi

तथ्यांक केअनुसार सबसे ज्यादा संघ द्वारा इसकी बिक्री हुई है । संघ के अध्यक्ष दीपक थापा के अनुसार संघ ने फूलपाती के एक दिन पहले से द्श्हारा के एक दिन बाद तक  ५५ हजार बिक्री करी है । करिब ६ दिन में ५५ हजार बिक्री हुई है । थापा के अनुसार एक खसीबोका का मूल्य औसत में १४ हजार रुपैयाँ परता है। जिस अनुसार कलंकी से ही  केवल  ७७ करोड रुपैयाँ का खसीबोका और भेरा की बिक्री हुई है । यह केवल कलंकी से बिक्री हुई की तथ्यांक है ।इसके अतिरिक्त  सडक के पेटी में खसीबोका रखकर व्यापार करनेवाले व्यवसायी अलग हैं । थापा के अनुसार खसीबोका मुख्यत: भारत के लखनऊ, कर्नाटक लगायत १० स्थान से आयात करके बिक्री की गई है । इसीप्रकार  बर्दीया, सल्यान, सुर्खेत, कोहलपुर, कटहरी, गाईघाट, रामेछाप, चितवन, नुवाकोट लगायत से भी राजधानी  में लाकर बिक्री करने वाले  व्यवसायी भी हैं । पिछले साल दसैं में भेरा और खसीबोका  सभी ४५ हजार बिक्री हुई थी । उस समय पूजा करने के लिए ज्यादा बोका बिक्री हुई थी , इसबार खंसी ज्यादा बिक्री हुई है , चुकी ज्यादा लोग राजधानी से बहर चले गये हैं

बेचे गये खसीबोका में  ८५ प्रतिशत भारत से  आयात की गई थी । वह खसीबोका प्रति किलो ५ सय १० रुपैयाँ तकमें बिक्री हुई है । इस से पहले  खसीबोका किलो का ४ सय ६० रुपैयाँ में बिक्री करने की बात खी गयी थी । लेकिन मांग बढने के कारण मूल्य बढाकर बिक्री की गई थी । संस्थान ने २५ किलो तक का  खसीबोका का मूल्य ४ सय ४० और २५ किलो से ज्यादा का ४ सय ५० रुपैयाँ में बिक्री की थी । माग अनुसार सहज व्यवस्था मिलाने के लिए संघ ने ७ हजार भेरा भी राजधानी में लाइ थी । भेरा प्रति किलो ७ सय रुपैयाँ बेचीं गई थी |

 

 

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of