Sat. Sep 22nd, 2018

दाँत की देखभाल कैसे करे ?

जगन्नाथ यादव
आज छोटे–छोटे बच्चे से लेकर बड़े–बुजर्ग तक कहते हंै कि मेरी दांत में समस्या है । यहां एक बात का खयाल रखना चाहिए कि दाँत में समस्या आ जाती है तो उससे हमारी शरीरिक सौन्दर्य में भी नकारात्मक असर पड़ जाता है । इसीलिए बच्चे, यौवन अथवा वृद्ध हर व्यक्ति दाँत संबंधी समस्या में विशेष सतर्क रहना चाहिए । इसीतरह दाँत अस्वस्थ हो जाता है तो हमारे पूरा शरीर भी अस्वस्थ बन जाता है ।
अगर किसी में बचपन से ही दाँत में समस्या है तो उसके पीछे खुद की लापरवाही ज्यादा जिम्मेदार होती है । सामान्यतः हमारी आदत है कि दाँत में दिखाई देनेवाले समस्याओं के प्रति हमारा ध्यान नहीं जाता, हम लोग गम्भीर नहीं बनते हैं । कुछ ज्यादा ही समस्या हो जाने के बाद हम लोग डॉक्टरों के पास जाते हैं । यह गलत आदत है । अगर दाँत में कीड़ा पड़ जाता है तो हम लोग हैरान हो जाते हैं । मन चाहा कुछ भी नहीं खा पाते हैं । इसीलिए दांत बालक हो अथवा वृद्ध सभी के लिए अपरिहार्य है । दाँत का प्रयोग सिर्फ खाना खाने के लिए नहीं होता है, सौन्दर्य के लिए भी आवश्यक है ।
विशेषतः दाँत की समस्या कीड़ा पड़ जाने से होता है । इसीतरह दुर्घटना में पड़ने से, उमर के कारण से भी दांत में समस्या आ जाती है । किसी भी विशेष कारण के अलावा अगर दाँत में समस्या आ जाती है तो इसके पीछे खुद की लापरवाही है । जैसे कि दैनिक दाँत की सफाइ न करना, ठंडा–गरम खाते वक्त ध्यान नहीं देना आदि ।
दाँत को स्वस्थ रखने के लिए सुबह–शाम खाना खाने के बाद अनिवार्य रूप में ब्रश करना चाहिए । ब्रश करते वक्त प्रयोग होनेवाला पेस्ट भी अच्छी कम्पनी से उत्पादित होना चाहिए । जंकफुड खाने से दाँत में जल्द ही समस्या आ सकती है । इसीतरह बाल बालिका हरदम चॉकलेट खाना चाहते हैं, जिसके चलते भी दाँत कमजोर हो जाता है । इस तरह की खाना खाने से पहले सतर्क रहना चाहिए । खाने के तुरंत बाद ब्रश करते हैं तो दांत में समस्या नहीं आएगी । नहीं तो दाँत में जटिल समस्या भी आ सकती है, दांत को तोड़कर निकालना भी पड़ सकता है ।
इसीतरह अगर हम कुछ खाते हैं तो धीरे से चबा कर खाना चाहिए । अत्यतं गरम और ठंडा खाना खाने से सतर्क रहना चाहिए । अत्यतं गरम और ठंडा दांत के लिए फायदाजनक नहीं है । आप मांसाहारी हैं तों हड्डी जैसे कड़ा वस्तु चबाते वक्त ध्यान देना चाहिए । हड्डी ही नहीं, इसीतरह छुर्पी जैसे कड़ा वस्तु चपाने से पहले ध्यान रखिए । इसके साथ साथ ६–६ महीने में दाँतों के डॉक्टरों से मिलते रहिए, आप का दांत स्वस्थ और मजबुत बना रहेगा ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of