दुनिया के सबसे ताकतवर व्यक्ति से हिंदी सुनना हिंदी की बढ़ती ताकत का इजहार है

obama-donald

काठमांडू, १ नवम्बर |

हिंदी का परचम विदेशों में भी । अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने 25 अक्टूबर को जारी अपने सन्देश में हिंदी में काहा था , अबकी बार ट्रम्प की सरकार । ट्रम्प की उस अपील ने हिंदी के अस्तित्व को मजबूती दी है । लाख कोई हिंदी को अनदेखा करे या उसे मानने से इंकार करे पर हिंदी विश्वपटल पर अपनी उपस्थिति दर्ज करा चुकी है । ओबामा तो पहले ही हिंदी प्रेम को दर्शा चुके हैं ।

पर नेपाल में हिंदी बोलने वालों की संख्या अधिक होने के बाद भी इसे हमेशा विवादित बनाया जाता रहा है और संवैधानिक दर्जा नही दिया जा रहा है । हिंदी को सिर्फ एक देश विशेष से जोड़ कर देखने की प्रवृति इसका मूल कारण है । साथ ही भाषा विशेष को मुद्दा बना कर राजनीति करने वाले ही इसके पोषक भी हैं । दुनिया के सबसे ताकतवर व्यक्ति व उसकी कतार में खड़े दूसरे शख्स के मुहँ से हिंदी सुनना हिंदी की बढ़ती ताकत का इजहार है ।

 

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz