जनता की मांग को दृष्टिगत करते हुए स्वर्गीय राजा महेन्द्र के निर्देशन में तत्कालीन सरकार ने सरकार के स्वामित्ववाली संस्था एवं तत्कालीन नमक के प्रमुख कारोबारियों को समावेश करते हुए सल्टटे्रडिङ कर्पोरेशन की स्थापना विक्रम सम्वत् २०२० साल भाद्र २७ गते की थी। तत्पश्चात् अनवरत रूप से इस कर्पोरेशन ने उच्चगुणस्तर, उचित मूल्य और उपलब्धता
" /> जनता की मांग को दृष्टिगत करते हुए स्वर्गीय राजा महेन्द्र के निर्देशन में तत्कालीन सरकार ने सरकार के स्वामित्ववाली संस्था एवं तत्कालीन नमक के प्रमुख कारोबारियों को समावेश करते हुए सल्टटे्रडिङ कर्पोरेशन की स्थापना विक्रम सम्वत् २०२० साल भाद्र २७ गते की थी। तत्पश्चात् अनवरत रूप से इस कर्पोरेशन ने उच्चगुणस्तर, उचित मूल्य और उपलब्धता
" /> जनता की मांग को दृष्टिगत करते हुए स्वर्गीय राजा महेन्द्र के निर्देशन में तत्कालीन सरकार ने सरकार के स्वामित्ववाली संस्था एवं तत्कालीन नमक के प्रमुख कारोबारियों को समावेश करते हुए सल्टटे्रडिङ कर्पोरेशन की स्थापना विक्रम सम्वत् २०२० साल भाद्र २७ गते की थी। तत्पश्चात् अनवरत रूप से इस कर्पोरेशन ने उच्चगुणस्तर, उचित मूल्य और उपलब्धता
"/> देशव्यापी सेवारत साल्टट्रेडिङ कर्पोरेशन | Himalini.com-hindi magazine ||madhesh khabar:Himalini first hindi magazine of Nepal brings news in hindi from Nepal,madhesh news,financial news,loan,bank news, madhesh khabar

देशव्यापी सेवारत साल्टट्रेडिङ कर्पोरेशन

जनता की मांग को दृष्टिगत करते हुए स्वर्गीय राजा महेन्द्र के निर्देशन में तत्कालीन सरकार ने सरकार के स्वामित्ववाली संस्था एवं तत्कालीन नमक के प्रमुख कारोबारियों को समावेश करते हुए सल्टटे्रडिङ कर्पोरेशन की स्थापना विक्रम सम्वत् २०२० साल भाद्र २७ गते की थी। तत्पश्चात् अनवरत रूप से इस कर्पोरेशन ने उच्चगुणस्तर, उचित मूल्य और उपलब्धता को सुनिश्चित करते हुए इमानदारी के साथ उपभोक्ता की सेवा की है।salt
कर्पोरेशन हाल तक निम्नलिखित वस्तुओं की आपर्ूर्ति व्यवस्थित करते आ रहा है। जैसे -क) खाद्यवस्तुः नमक, घी, तेल, चीनी, मैदा, आँटा, सूजी, चावल और दाल। -ख) अन्य वस्तुः कागज, कोयला और सिमेन्ट -ग) पोषण तत्त्व मिश्रणः जनस्वास्थ्य में नजर आनेवाले विकृतियों को हटाने के लिए कर्पोरेशन नेपाल में अग्रणी रूप में खाद्यवस्तुओं में निम्नानुसार पोषण तत्व मिश्रण करते आया हैः १. नमक में आयोडिन मिश्रण, २. वनस्पति घी और तेल में विटामिन ए और डी मिश्रण। ३. मैदा और आटा में आइरन मिश्रण।
कर्पोरेशन ने राष्ट्रीय अर्थतन्त्र के मेरुदण्ड एवं ८० प्रतिशत से ज्यादा कृषि क्षेत्र में निर्भर जनता के मद्देनजर इस क्षेत्र में अस्वस्थ प्रतिस्पर्धा और विकृतियों को हटाकर जनसाधारण की आवश्यकता अनुसार गुणस्तरयुक्त कृषि समाग्री जैसेः अनेक प्रकार के रासायनिक खाद्य, उन्नत जात के बीज  आदि की सेवा उपलब्ध कराने के लिए अधिराज्य के विभिन्न स्थान में साल्टट्रेडिङ  ने अपनी शाखा स्थापित किया है। अभी इसकी सेवा अधिराज्य में सिर्फ२५ प्रतिशत किसानों को उपलब्ध है। लेकिन भविष्य में कृषकों की माँग के मद्देनजर उक्त सेवा को और बढÞाने का लक्ष्य कर्पोरेशन का रहा है।
कर्पोरेशन के महाप्रबन्धक उर्मिला श्रेष्ठ के अनुसार इस कर्पोरेशन की पूँजी संरचना में सरकारी की ओर से ११.६८ प्रतिशत, नेशनल ट्रेडिङ लिमिटेड का ९.७३ प्रतिशत और र्सवसाधारण शेयरधारकों का ७८.५९ प्रतिशत सहभागिता है।
नेपाल के वर्तमान आर्थिक परिवेश में कर्पोरेशन का शेयर होल्डर नेपाल सरकार भी है और २०२० साल में ही पीपीपी को उत्कृष्ट नमूना स्थापित करने में यह संस्था सफल रही है। जब कि अन्य संस्थाएँ आर्थिक रूप से धराशायी हो चुकी हैं। फिर भी यह संस्था अच्छी अवस्था में सञ्चालित है। तृतीय विश्व की महिलाओं की अवस्था पुरुषों की तुलना में बहुत ही निम्नस्तर की होने पर भी महाप्रबन्धक उर्मिला श्रेष्ठ ने इस संस्था को सफल नेतृत्व प्रदान किया है। और एक कुशल प्रशासक की भूमिका निर्वाह किया है। इसके लिए वे बधाइ के पात्र हैं।
केन्द्रीय कार्यालय के विभागीय प्रबन्धक बृजेश कुमार झा के अनुसार इमानदारी के साथ न्यूनतम मुनाफे में उपभोक्ता को उच्च गुणस्तर की अतिआवश्यक वस्तुएं सुलभ रूप में साल भर अधिराज्यभर व्यवस्थित रूप से विक्री वितरण करने के कारण यह कर्पोरेशन अन्य व्यापारिक समूह की तुलना में औरों से अलग है। सरकारी और निजी क्षेत्र के घनिष्ठ सम्बन्ध का आदर्श नमूना ही साल्टटे्रडिङ कर्पोरेशन है।
कर्पोरेशन ने देश के ७५ जिले में अपनी ९३ शाखाएं स्थापित की है। प्रशाखा एवं सर्म्पर्क कार्यालयों को जोडने पर ६ हजार डिलरों के मार्फ नमक तथा अन्य अत्यावश्यक वस्तुओं को उचित मूल्य में आपर्ूर्ति करने की व्यवस्था मिलाई गई है। इस तरह कर्पोरेशन के पास अत्यावश्यक वस्तुओं की आपर्ूर्ति के लिए सशक्त सञ्जाल, जनशक्ति एवं अनुभव है। कर्पोरेशन के पास विभिन्न स्थानों में ७५ हजार मेटि्रक टन क्षमता के भण्डारगृह एवं अत्याधुनिक प्रयोगशालाएं हैं। इन सबों के चलते विविध बस्तुओं को उचित मूल्य में देशभर, सालभर उपलब्धता सुनिश्चत कराने में यह कर्पोरेशन सक्षम है, ऐसा विभागीय प्रबन्धक ब्रजेशकुमार झा का कहना है।
देश में खाद्य भण्डार का अभाव रहने की अवस्था में और इसके लिए विश्वव्यापी रूप में प्रायः देश को विकट परिस्थितियों का सामना करना पडÞ सकता है। उस अवस्था से निपटने के लिए खाद्य वस्तुओं का अतिरिक्त भण्डारण नेपाल में भी होना अति आवश्यक दिखता है। उक्त महत्त्वपर्ूण्ा कार्य सम्पन्न करने के लिए साल्ट टे्रडिङ कम्पनी ही उपयुक्त संस्था होने से नेपाल सरकार द्वारा उक्त कार्य के लिए इसी कम्पनी को जिम्मेवारी सौंपनी चाहिए। जिसके चलते खाद्यान्न का मूल्य नियन्त्रण तथा आपर्ूर्ति व्यवस्था सहज ढंग से सम्पन्न हो सकती है।
इस कर्पोरेशन ने अपने स्थापना काल से ही शेयरधारकों को लाभांश वितरण किया है। राष्ट्र को भी समय पर इमानदारी के साथ करों का भुक्तान किया है। एवं अपने कर्मचारियों को बोनस प्रदान किया है, इन सब कारणों से आर्थिक दृष्टिकोण से देखने पर भी यह संस्था बहुत ही सुदृढ नजर आती है और उक्त जिम्मेवारी का निर्वाह यह संस्था सफलतापर्ूवक कर सकती है। िि
-ि रवीन्द्र झा

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz