दैलेख में हो सकता है एलपी ग्यास–भण्डार !

dailekh-gyas
राजनारायण यादव,
२६ अगहन, काठमांडू । नेपाल में लिक्विफाइड पेट्रोलियम (एलपी) ग्यास कि  खानी हैं, इस बात की पुष्टि होनी  बांकी  है । एक चिनियाँ अध्ययन के अनुसार दैलेख जिला स्थित श्रीस्थान लगायत के कुछ क्षेत्रों में पेट्रोलियम ग्यास उत्खनन की  सम्भावना देखी  गई है । नेपाल सरकार के अनुरोध  को स्वीकार करते हुए चीन से आये एक प्राविधिक तथा वैज्ञानिक समूह ने इस  बात का जिक्र किया है कि दैलेख में एलपी–ग्यास का भण्डार है । उक्त समूह द्वारा तैयार किया गया प्रारम्भिक रिपोर्ट नेपाल सरकार को हस्तान्तरण भी हो चुका है । बताया जाता है कि उक्त अध्ययन रिपोर्ट के बाद नेपाल सरकार के कुछ अधिकारी उत्साहित हो गये है ।
स्मरणीय है– पिछले साल हुए मधेस आंदोलन के क्रम में भारत से एलपी ग्यास की  आपूर्ति के लिए नेपाल को तकलिफ महसूस हुई थी  । उसी समय तत्कालिन केपी ओली नेतृत्व की सरकार ने चीन के साथ एक समझौता कर नेपाल में अनुसन्धन के लिए अनुमति प्रदान किया था । वही चिनियाँ टोली ने नेपाल आकर विभिन्न स्थानों में अपना अनुसन्धान कर यह रिपोर्ट बनाया है । रिपोर्ट के मुताबिक दैलेख के श्रीस्थान, नाभिस्थान, धुलेश्वर और  पादु का क्षेत्र में पेट्रोलियम पदार्थ देखी  गई  है । एक और स्मरणीय बात यह है कि दैलेख के श्रीस्थान में ३ सौ साल से अखण्ड रुप में एक दीप  जल रहा है, जिस को देखते हुए विभिन्न लोगों ने अनुमान लगाया है कि वहाँ प्राकृतिक ग्यास का भण्डार हो सकता है । लेकिन वैज्ञानिक अनुसंधान न होने के कारण अभी तक उस दीप को दैवी शक्ति के साथ जोड़ कर देखा जा रहा है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: