Tue. Sep 25th, 2018

दो तिहाई बहुमतवाली सरकार भी कमजोरः कोइराला

काठमांडू, २९ जुलाई । नेपाली कांग्रेस के केन्द्रीय सदस्य डा. शेखर कोइराला ने कहा है कि दो तिहाई बहुमत में निर्मित सरकार भी आज कमजोर दिखाई दिया है । शनिबार बुटबल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए नेता कोइराला ने कहा– ‘प्रधानमन्त्री ने मन्त्री और सांसद् को आग्रह किया कि सरकार को चारों ओर से घेराबन्दी किया जा रहा है, प्रतिरक्षा किया जाए । इस तरह आग्रह करना ही सरकार कमजोर और निरीह होने का प्रमाण है ।’
नेता कोइराला को मानना है कि सरकार ने अपने गलती को छिपाने के लिए ही सरकार को प्रतिरक्षा के लिए आग्रह किया है । उन्होंने ने कहा कि इसतरह गलती छिपाने की उद्देश्य से प्रतिरक्षा के लिए आग्रह करना गलत है । उन्होंने कहा कि सरकार संविधान की मर्म और भावना के विपरित संचालित हो रहा है ।
नेता कोइराला को मानना है कि सोना तस्करी काण्ड, संस्कृत विश्वविद्यालय उपकुलपति काण्ड और डा. गोविन्द केसी काण्ड ने सरकार को नंगा कर दिया है । नेता कोइराला ने आगे कहा– ‘खूद गृहमन्त्री संसद् में उपस्थित होकर डा. गोविन्द केसी को अधिनायकवादी कहते हैं । वर्तमान सरकार की ओर से लोकतन्त्र और सर्वसत्तावाद के बारे में सिखने की हमे जरुरत नहीं है ।’

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of