नेपालगंज आन्दोलन में सहभागी होने के लिये अग्राह

नेपालगञ्ज, (बाके) २०७२, मंसीर ४ गते ।

मधेसी नागरिक सामज ने आयोजन किया नेपालगन्ज अन्तरक्रिया कार्यक्रम में बिगत ३ महीने से नेपाल में जारी रहा मधेश आन्दोलनप्रति इस क्षेत्र के मधेसी युवा मधेसी विद्यार्थी मधसी शिक्षक ,मधेसी ब्यापारियों मधेसी पत्रकार मधेसी मानव आधिकारकार्मी तथा संस्थाए ने एक्यबद्धता जनाते हुयें मधेस की मागों को तत्काल सम्बोधन करने के लियें सरकार से नेपालगन्ज में कार्तिक २७ गते को जोडदार माग किया गया है ।
1

नेपालगन्ज में लगभग सिथिल बना आन्दोलन में उर्जा थपने के उद्देश्यों से नेपालगन्ज में मधेसी नागरिक सामज ने आयोजन किया कार्यक्रम में मधेसी समुदाय के अगुवाओं ने कहा मधेस में अपराध करने, सरकार ने मधेसी जनताओं को कष्ट दे रही सिकायत किये थे । वषौ से मधेसी जनताओं को शोषण करके उनलोगों की हक अधिकार को कुष्ण्ठित कियें है पिछले समय में नेपाल में हुआ जनआन्दोलन तथा मधेस आन्दोलन ने उनलोगों की मुद्दा को आगे बढा था उस समय में दुसरा संबिधान सभा ने जारी किया सबिधान में मधेसी, आदीबासी, तथा पिछडे हुये समुदाय की हक अधिकारों को कटौती किया गया मा“ग को संशोधन कररने के लिये शुरु किया गया यह आन्दोलन कोई जाति, वर्ग समुदाय की नहोकर के केवल पहिचान की आन्दोलन होने नाते मधेसी समुदाय के अगुवओं ने अन्तरक्रिया में बताया ।
मधेस आन्दोलन के क्रम में रिपोर्टिङ्ग के समय में रहें पत्रकारों के उपर प्रहरी प्रशासन की ओर से उन लोगों को दाबने के लिये उन के उपर किया गया कुटपीट संचार सामाग्री लुटपाट जैसी गतिविधि अब न करने के लिये मधेसी समुदाय के अगुवओं ने स्थानीय प्रशासन से अग्राह समेत किया है । मधेस आन्दोलन के क्रम में मुलुक में उत्पन्न हुई समस्या संकटप्रति सरकार गम्भीर होकर समाधान करने के लिये समेत मधेसी समुदाय के अगुवाओं ने अग्राह किया है । इसी तरह इस जगाह के मधेसी जनताओं को निशाना बनाया गया है, अन्तरक्रिय कार्यक्रम में सम्बोधन करते हुये तराई मधेस लोकतान्त्रिक पार्टी के केन्द«ीय सदस्य बिजय करमार गुप्त ने कहा ‘सरकार मधेस विरोधी नही है तो वार्ता से हुछ हल अवश्य होती ।’ सरकार ने मधेसी जनताओं को विदेशी जैसी ब्यवहार करती है उन लोगों के उपर दमन कर रही है उस प्रति आपत्ति प्रकट करते हुये जिय कुमार गुप्त ने मधेसी जनताओ ने अब जवाफ देने की समय नजदीक आ गई है उन्हों ने बताया । हम लोग मधेस में शासन करने के लिये सक्षम हैैं’ उन्हों ने कहा, ‘प्रधानमन्त्री ओली नही झुके तो यह समस्या लम्बे समय के लिये जायेगी बताया ।’
3इसी तरह फोरम का्े केन्द्रीय सदस्य तथा पूर्व मन्त्री ईस्तियक राई ने कहा मधेस सहित पूरे देश में अभी ग्या“स, तेल, खाद्यान्न लगायत की संकट शुरु है इस समय भी सरकार ने भारत को आरोप प्रत्यारोप लगा रही है कहते हुये इस्तियाक राई ने आपत्ति प्रकट किया । नाकाबन्दी मधेसी मोर्चा के कारण से हुई है’, अन्तरक्रिय कार्याक्रम में बोलते हुयें उन्हों ने, कहा ‘भारत को बद्नाम करके ओली सरकार ने अपनी वर्चस्व बढाने खोजे रही है ।‘ सद्भावन पार्टी ने कहा पृथ्बीनारायण शाह से वर्तमान राज्यसत्ता के सभी अधिकारियों ने मधेस को लुटे है इस लिय मधेस में आन्दोलन करना पडा है बताए । उन्हों ने महेन्द्रवादी विचारधारा विपरीत राज्य पुनरसंरचना करने की कारण से बाध्य होकर संविधान अस्विकार किया है और आन्दोलन में जाना पडा है बताये । कार्तिक २७ गते शुक्रवार को नेपालगन्ज में आयोजन किया गया अन्तरक्रिय कार्याक्रम में सम्बोधन करते हुये तराई मधेश सद्भवान पार्टी के अध्यक्ष केशवराम वर्मा ने मधेस की समस्या स्वदेश में होना चाहिये. बताया । अन्तरक्रिय कार्याक्रम को सम्बोधन करते हुये केशवराम वर्माले मधेश आन्दोलन को समाधान सरकार ने नेपाल में न करके बाहरी मुलुकों में पहल करने से समाधान नही होगी बताया । उन्हों ने कहा भारत ने नाकाबन्दी नही लगाया है बताते हुये नाकाबन्दी मधेसी मोर्चा की आन्दोलन के कारण देश समस्या में फसी है बताया । सरकार ने निकास न देनें तक इस की समाधान विदेश से नही होगी केशवराम वर्मा ने बताया, मानवीय संवेदना हम ज्यादा सरकार में होना चाहियें ।
2कार्यक्रम में सदभावना पार्टी बा“के के अध्यक्ष लक्ष्मीनराण वर्मा ने कहा मधेसी, मुस्लिम, आदिवासी, जनजातिओं को सरकार ने बार बार भिडाने प्रयास करते आ रही है सतर्क रहन आग्रह किया । उन्हों कहा फूट डालो और शासन करो जैसी सिद्धान्त आगे बढ गई है इस लिये सभी लोग अपने अपने स्तर से मधेस आन्दोलन में समर्थन करने के लिये बताया । मधेसी व्यापारी और समाजसेवी कन्हैयालाल टण्डन ने कहा आपसी मतभेद है नेपालगञ्ज में आन्दोलन में कुछ कर्मी रही है उर्जा के साथ लगने के लिये अग्राह किया । यह अन्तरक्रिय कार्याक्रम ने हम लोगों में उर्जा देनें की काम किया है मधेसी समुदाय के अगुवओं ने बताया । मधेसी नागरिक सामज बा“के को मधेसी समुदाय के अगुवओं ने धन्यवाद दियें थे । अन्तरक्रिय कार्यक्रम में सहभागियों में नारिगक समाज के पूर्व संयोजक पन्नालाल गुप्त, नागरिक समाज संयोजक आशीष कुमार गुप्ता, पत्रकार रहिस अहमद सिद्धिकी, विजय वर्मा, प्रेस युनियन बा“के के उपाध्यक्ष कृपाराम बाडिय, एन पी. आई के प्रमुख आरीफ अन्सारी, अवधी सा“स्कृतिक प्रतिष्ठान के केन्द्रीय अध्यक्ष बिष्णुलाल कुमाल लगायत लोगों की सहभागिता रही थी नागरिक समाज संयोजक आशीष कुमार गुप्ता ने जानकारी दी है।

Loading...
%d bloggers like this: