Sat. Sep 22nd, 2018

नेपालगञ्ज में पुनर्संरचना आयोग का प्रतिवेदन जलाया गया

nep

नेपालगन्ज, (बाके) पवन जायसवाल, २०७३ माघ २६ गते ।
बाके जिला के नेपालगन्ज में संयुक्त लोकतान्त्रिक मधेसी मोर्चा के नेताओं ने स्थानीय निकाय पुनर्संरचना आयोग द्वारा सरकार को दिया गया प्रतिवेदन नेपालगञ्ज में माघ २३ गते को जलाया है ।
मोर्चा के नेता कार्यकर्ताओं ने नेपालगञ्ज बाजार परिक्रमा करते हुये कमल मधेशी चौक अगाडी जमा होकर प्रतिवेदन मधेस विरोधी कहकर जलाया । जनसंख्या की आधार पर स्थानीय निकाय गठन करना चाहियें हम लोगों की मा“गें को वेवास्ता करके प्रतिवेदन तयार किया है वह हम लोगों ने होकर प्रतिवेदन जलाने के लिये सडक में उतरे है सदभावना पार्टी का“के के अध्यक्ष लक्ष्मीनराण बर्मा ने बताया । हम लोगों कोई भी हालत में भी प्रतिवेदन अनुसार स्थानीय निकाय मान्य नही होगी बताया । आयोग प्रतिवेदन के आधार में मधेस और मधेसी जनता की भावना विपरित करनेवाली स्थानीय निकाय की निर्वाचन हम लोगों ने बिथोलगें मोर्चा के नेता तथा संघीय समाजवादी फोरम नेपाल के बा“के अध्यक्ष कमरुदीन राई ने बताया ।
विरोध कार्याक्रम में सम्बोधन करते हुये तमोलोप के अध्यक्ष गिरज प्रसाद पाठक ने कहा ‘सरकार मधेश विरोधी नही होता तो वार्ता से कुछ हल अवश्य होती ।’ सरकार ने मधेसी जनता को विदेशी जैसे ब्यवहार करके दमन किया प्रति आपत्ति प्रकट किया । इसी तरह विरोध कार्याक्रम में सम्बोधन करते हुये तराई मधेश सद्भवान पार्टी के अध्यक्ष केशवराम बर्माले कहा सरकार ने निकास जब तक नही देगा समाधान विदेश से नही होगी , मानवीय संवेदना हम लोगों से अधिक सरकार में होना चाहिए ।
विरोध कार्याक्रम में सदभावना पार्टी के उपाध्यक्ष रेखा गुप्ता, सदभावना पार्टी के केन्द«्रीय सदस्य रामकुमार दिक्षित, संघीय समाजवादी फोरम नेपाल के नेता कौशल कुमार मिश्र, संघीय समाजवादी फोरम नेपाल नेतृ मम्मता बानिय तमोलोप के केन्द्री«य सह–महमन्त्री पशुपति दायल मिश्र तमोलोप के नेता जगदीश शुक्ला, तमोलोप के राजकिशोर मिश्र लागयत लोगों की सहभागिता रही थी ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of