नेपालगन्ज नाका बन्द उग्र रूप लेने की चेतावनी : मधेशी मोर्चा

 

सन्दिप कुमार बैश्य,असोज १३ गते , बाँके

1बिगत ५ दिन से शान्तिपुर्ण रूप में नाका तथा राजमार्ग केन्द्रित आन्दोलन में भी प्रहरी प्रशासन आन्दोलन तोड़ने के लिए दमन कर रही है और हस्तक्षेप कर रही जिसके कारण आन्दोलन अब उग्र रुप लेगा मोर्चा ने चेतावनी दी है । विगत लम्बे समय से मधेश के जायज माँगों को राज्य क ीओर से अनदेखा किया जा रहा है अगर ऐसा ही रहा तो आन्दोलन और नाका बन्दी बृहत रूप में और भी उग्र हो सकता है ऐसी चेतावनी मोर्चा के प्रवक्ता पशुपति दयाल मिश्र ने दी है । विगत के सहमति के विपरीत राज्य संविधान लेकर आया जिसके परिणाम स्वरूप यह आन्दोलन जारी है । अगर मधेश की माँग को सम्बोधन नहीं किया गया तो आन्दोलन और भी सशक्त रुप लेगा । मोर्चा के सह संयोजक राम कुमार दिक्षित ने कहा कि इस देश में २०४६ साल का परिवर्तन हो वा अन्य परिवर्तन भारत के सहयोग में जब नाकाबन्दी हुई तभी श्री ५ की सरकार खतम होकर प्रजातन्त्र आया था । यह बात सबको मालूम है । उस समय भी नाकाबन्दी हुई थी और नेताओं ने हाथ जोडकर भारत से विनती की थी कि नाकाबन्दी लगाए और नाकाबन्दी का स्वागत किया था । उस समय की नाकाबन्दी जायज थी और आज की नहीं ?आज नाकबन्दी मधेशियों ने की है भारत ने नहीं जबकि नाम भारत का लिया जा रहा है । मधेश की जनता और नेता राजमार्ग अवरुद्ध कर रहे हैं और नाकाबन्दी भी इसे विफल करने के लिए प्रहरी प्रशासन अत्यधिक मात्रा में प्रहरियों का 2परिचालन कर रहा है । जबकि प्रशासन सरक्षा व्यव स्था का हवाला दे रही है ।

बाँके में पेट्रोलियम पदार्थ का अभाव

सन्दिप कुमार बैश्य,असोज १३ , बाँके

मधेशी मोर्चा के ५ दिन से नाका बन्द के कारण बाँके में भी पेट्रोल , डिजेल आदि इन्धन का अभाव होने के कारण यहाँ के स्थानीय रुपैडिहा जाकर पेट्रोल डीजल तथा आवश्यक वस्तु खरीद कर रहे हैं । बाँके में दैनिक मोटरसाईकल प्रयोग कर के काम करने वाले कर्मचारियों को समस्या हो रही है । पेट्रोल डीजल का अभाव होने के कारण वो रुपैडिहा जाकर खरीदने के लिए बाध्य हैं । मधेशी मोर्चा ने बडी मालवाहक गाडी आज भी नेपाल आने नहीं दिया है किन्तु आम जनता को और दो पहिए 4गाडी को आने जाने की सुविधा दी है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz